Share Market क्या है? इसमें शेयर कैसे खरीदे

Share Market एक ऐसा बाजार होता है जहाँ पर अलग अलग बहुत सारी कंपनियों के शेयर ख़रीदे और बेचे जाते हैं। ये किसी भी दूसरे सामान्य बाजार की तरह होता है जहाँ पर जाकर लोग शेयर की खरीद बिक्री का काम करते हैं। इसका काम अब ऑफलाइन तक सीमित नहीं है बल्कि ये अब ऑनलाइन भी हो चूका है।

अगर आप समाचार देखते होंगे तो कई बार आपने जरूर सुना होगा की Share Market क्या है लेकिन शेयर कैसे खरीदते हैं और भारत में कितने शेयर बाजार है ये कम ही लोग जानते हैं।  शेयर मार्किट एक बाजार होता है जहाँ से शेयर की खरीद और बिक्री की जा सकती है. इसे खरीद कर लोग अपने पैसों का निवेश करते हैं. इन शेयर के दाम बढ़ते घटते रहते हैं। जब दाम बढ़ते हैं तो आप इसे बेचक सकते हैं।

एक वक़्त था जब टेक्नोलॉजी इतनी विकसित नहीं थी और शेयर की खरीद बिक्री मौखिक बोलियों से की जाती थी। लेकिन अब स्टॉक मार्केट का सारा काम और शेयर की लेन देन स्टॉक एक्सचेंज के नेटवर्क से जुड़े कम्प्यूटरों के द्वारा की जाती है।  आज स्टॉक मार्केट का सारा काम इंटरनेट का इस्तेमाल कर के लोग घर बैठे ही कर लेते हैं. आप भले ही दुनिया के किसी भी कोने में हो , वहीँ से स्टॉक मार्केट का काम कर सकते हैं।

“”आज मामला तो ये है की इससे खरीद बिक्री का काम करने वाले लोग एक दूसरे को पहचानते तक नहीं।””

फिल्मों, टेलीविज़न और न्यूज़ के माध्यम से हमे अक्सर ये जानने को मिलता है की बड़ी बड़ी कंपनियां अपना share बेचते हैं। कभी शेयर की कीमत बढ़ जाती है तो कभी घट जाती है। लोग इन्ही शेयर की खरीद बिक्री कर के बहुत कम समय अच्छे पैसे कमा लेते हैं।

शेयर मार्केट की परिभाषा 

ये एक ऐसी जगह होती है जहाँ पर कंपनियां अपने शेयर को मार्केट में आम जनता के खरीद बिक्री करने के लिए जारी करती है। जिसके माध्यम से कंपनियां अपने बिज़नेस में हिस्सेदारी खरीदने का मौका देती है।

जिसे खरीद कर हम उस कंपनी के हिस्सेदार बन जाते हैं। किसी की भी स्टॉक की कीमत में होने वाला उतार चढ़ाव कंपनी की स्थिति पर निर्भर करता है।  Stock Market में बहुत कम समय में पैसे कमाए जाते हैं लेकिन ये भी सच्चाई है की इस मार्केट में पैसे बहुत आसानी से डूब भी जाते हैं। ये सभी ट्रेड में और Company के बिज़नेस में होने वाले उतार चढ़ाव पर आधारित होता है।

शेयर बाज़ार में शेयर कब खरीदें?

आपको थोडा बहुत idea मिल गया होगा के शेयर मार्केट क्या है। Stock Market में share खरीदने से पहले आप इस लाइन में पहले अनुभव लाभ कर लें की यहाँ कैसे और कब invest करना चाहिये। और कैसी कंपनी में आप अपने पैसे लगायेंगे तब जा कर आपको मुनाफा होगा।

इन सब चीजों का पता लगायें ज्ञान बटोरे उसके बाद ही जा कर share market में निवेश करें। Share market में कौन सी कंपनी का share बढ़ा या गिरा इसका पता लगाने के लिए आप economic times जैसे newspaper पढ़ सकते हैं या फिर NDTV Business न्यूज़ चैनल भी देख सकते हैं जहाँ से आपको  Share Market की पूरी जानकारी मिल जाएगी।

ये जगह बहुत ही risk से भरी हुयी होती है इसलिए यहाँ तभी निवेश करना चाहिये जब आपकी आर्थिक स्तिथि ठीक हो ताकी जब आपको घाटा हो तो आपको उस घाटे से ज्यादा फर्क ना पड़े. या तो फिर आप ऐसा भी कर सकते हैं। की शुरुआत में आप Share Market में थोड़े से पैसे से निवेश करें ताकि आगे जाकर आपको ज्यादा झटका ना लगे. जैसे जैसे आपका इस field में knowledge और अनुभव बढेगा वैसे वैसे आप धीरे धीरे अपने निवेश को बढ़ा सकते हैं।

यदि आप Share Market में अपने पैसे निवेश करना चाहते हैं तब ऐसे में आप Discount Broker “Zerodha” पर अपना account बना सकते हैं। इसमें आप बहुत ही जल्द और आसानी से Demat Account खोल उसमें Share भी खरीद सकते हैं।

Zerodha Account

Upstox Account

Share market में निवेश करने से पहले आप इस market के बारे में अधिक जानकारी जरुर लें वरना इस market में धोके भी बहुत मिलते हैं. कई बार ऐसा होता है कुछ कंपनी fraud होती हैं।  और अगर आप उस कंपनी के shares को खरीद कर अपने पैसे लगाते हैं तो ऐसे कंपनी सबके पैसे ले कर भाग जाते हैं।

और फिर आपके लगाये हुए सारे पैसे डूब जाते हैं। इसलिए किसी भी कंपनी के shares को खरीदने से पहले उसके background के details को अच्छे से जरुर check कर लें।

खुद को शिक्षित करें

इससे पहले कि आप आप शेयर बाजार में अपना पहला आर्डर स्थापित करे यह महत्वपूर्ण है कि आप खरीदना, बेचना, आईपीओ, पोर्टफोलियो, कोट्स, प्रसार, मात्रा, उपज, इंडेक्स,क्षेत्र, अस्थिरता जैसे कारोबार शब्दों को जानते हों। स्टॉक बाजार शब्दावली या संबंधित समाचारों की और बेहतर समझ हासिल करने के लिए वित्तीय वेबसाइट पढ़ें या निवेश पाठ्यक्रम में शामिल हों।

ऑनलाइन शेयर कैसे ख़रीदते हैं?

हम ये पहले ही जान चुके हैं की स्टॉक खरीदने के लिए आपके पास Demat Account का होना बहुत जरुरी है।Demat Account बनाने के कई तरीके हैं। जिसमें से एक है Broker जिसकी मैंने ऊपर लिस्ट दे दी है। स्टॉक खरीदने के लिए हम पैसे जिस Account में रखते हैं वही Demat Account होता है। इसी के जरिये हमे खरीदी और बिक्री पर जब profit  होता है तो profit का पैसा भी हमे इसी Account में मिलता है ।ये बिलकुल Bank Account  के जैसा ही काम करता है।

हम जो आजकल Mobile Wallet का इस्तेमाल करते हैं ठीक उसी तरह ही DematAccount भी एक wallet है जो सिर्फ इसी उद्देश्य से खरीदने और बेचने के काम आता है।

जब भी खरीदना-बेचना चाहते हैं तो  इसमें दूसरे वॉलेट के ही जैसे हमे अपने bank account से पैसे load करने पड़ते हैं.  बेचने के बाद जो मुनाफा होता है वो हम वापस आपने Bank Account में transfer कर सकते हैं।

Demat Account बनाने का पहला तरीका तो मैंने पहले ही बता दिया है जो की एक Broker के माध्यम से खुलवाते हैं. और दूसरा तरीका ये है की आप आपका जिस भी बैंक में Saving अकाउंट है वहां से Demat Account खुलवा सकते हैं।

शेयर खरीदने के कुछ महत्वपूर्ण टिप्स:

इस में पैसे लगाना एक जोखिम भरा काम है। लेकिन जोखिम तभी तक है जब तक आपके पास जानकारी नहीं होती. एक बार आप इसके बारे में अच्छी जानकारी ले लेते हैं। तो आप को बस अपने दिमाग से ध्यान देकर काम करना है. कोई भी काम आपको जल्दबाजी में नहीं करनी चाहिए. Stock Market में ज्यादार लोग अपना पैसा गँवा देते हैं।

इसका कारण है लालच. आपने तो बचपन से ही सुना होगा की लालच बुरी बला है और इस प्लेटफार्म में ये बिलकुल fit बैठता है। पैसे निवेश करने से पहले वो कौन सी चीज़ें हैं जिन पर आपको ध्यान देना है.चलिए जानते हैं कुछ महत्वपूर्ण टिप्स।

  • Stock Market में निवेश करने के लिए बैंक एकाउंट, Demat एकाउंट, Trading एकाउंट का होना अनिवार्य है.
  • Invest करने से पहले रिसर्च करें की जिस कंपनी के शेयर खरीदना चाहते हैं उस कंपनी की बिज़नेस कैसी है, परफॉरमेंस कैसी है. कंपनी की मैनेजमेंट अच्छी है या नहीं. उसके इतिहास की जानकारी भी ले लेना जरुरी है की उस कंपनी का इतिहास कैसा रहा है. समय समय पर उसमे कितना उतार चढ़ाव कैसा रहा है. कुल मिलाकर कहें तो आपको निवेश की जाने वाली कंपनी की हर जानकारी ले लेनी है उसके बाद ही उसके स्टॉक खरीदने हैं.
  • Investors को अच्छे fundamentals वाली कंपनियों में ही पैसे लगाना चाहिए.
  • स्टॉक मार्केट में पैसे लगाने वाले लोगों को जिस बात पर सबसे ज्यादा कण्ट्रोल करना चाहिए वो है लालच. इसमें सबसे ज्यादा लालच करने वाले लोगों के ही पैसे डूबते हैं. इसमें काम करना है तो आपको सब्र के साथ काम करना पड़ेगा क्यूंकि कई ऐसे मौके आते हैं जब आपको लगता है की थोड़ा और कमा लेंगे तब स्टॉक बेचेंगे और इस चक्कर में अचानक इन के दाम कम भी होकर नुकसान हो जाता है.
  • नए लोगों के लिए सबसे बेहतर ऑप्शन ये है की वो Long term investment करें. Market expert के अनुसार Long term ने हमेशा investors को अच्छा return दिया है. इसी वजह से आप भी Long term investment का नजरिया रखें.
  • Investors को खरीदने के साथ ही उसे बेचने के लिए एक target price fix करना चाहिए. ख़रीदे हुए स्टॉक तभी बेचना चाहिए जब Target price पहुंच जाये.
भारत में कितने शेयर बाजार है?

हम जो शेयर खरीदते हैं उसके लिए बीच में ब्रोकर का होना जरुरी है. एक ब्रोकर हमारे देश के 2 main stock exchange से जुड़े होते हैं।

  1. BSE – Bombay Stock Exchange
  2. NSE – National Stock Exchange

Share Broker stock exchange के सदस्य होते हैं। आम जनता को बाजार में निवेश करने के लिए इन ब्रोकर के जरिये ही कर सकते हैं. Stock Market से  directly नहीं ख़रीदा जा सकता।

जो भी investment का काम करते हैं वो NSE और BSE की हर गतिविधि पर नज़र रखते हैं और उसी के आधार पर स्टॉक की खरीद बिक्री करते हैं। आप निवेश बाजार की हर ताज़ा खबर के लिए Zee Business, CNBC और NDTV profit चैनल देख कर लाइव updates पा सकते हैं।

शेयर खरीदने के नियम

स्टॉक मार्केट ट्रेडर और निवेशकों को मुनाफा कमाने के ढेरों अवसर प्रदान करता है। लेकिन ऑनलाइन ट्रेड करने के पहले आपको शेयर खरीदने के नियम के बारे में पता होना चाहिए।

अगर आप शेयर खरीदने के पहले जरूरी नियमों को नहीं फॉलो करते है तो नुकसान होने की संभावना अधिक होती है।

  1. शेयर खरीदने के लिए जरुरी रिसर्च:

अगर आप शॉर्ट-टर्म ट्रेडिंग करने जाते है तो जरूरी है उस स्टॉक का टेक्निकल एनालिसिस करना बहुत महत्वपूर्ण है। टेक्निकल एनालिसिस करने के लिए चार्ट्स और इंडिकेटर की समझ रखना आवश्यक है।

  1. अपने बजट के अनुरूप शेयर खरीदने:

शेयर खरीदने के पहले अपनी बजट का भी ध्यान जरूर रखें। उन स्टॉक पर पैसा ना लगाएं जो आपके बजट से बाहर हो।

शेयर खरीदने के लिए सही समय की प्रतीक्षा करें। शेयर मार्केट एक वोलेटाइल मार्केट है इसलिए शेयर की कीमत पल-पल बदलती रहती है। इसलिए जब आपको लगे कि किसी एक कीमत पर अच्छा रिटर्न मिल रहा है तो उस कीमत पर आप स्टॉक बेच या खरीद सकते हैं।

  1. तकनीकी विषयों की जानकारी:

शेयर बाजार में कुछ ऐसे फीचर है जिनके बारे में जानकारी रखना बहुत महत्वपूर्ण हैं। मार्केट में कुछ ऐसे फीचर है जिसकी मदद से मुनाफा को अधिक किया जा सकता हैं।

  • स्टॉपलॉस – ये ऐसा फीचर है जो आपके लॉस को कम करने में मदद करता है.
  • स्क्वायर ऑफ – आमतौर पर स्क्वायर ऑफ को इंट्राडे में इस्तेमाल किया जाता है जहाँ शेयर खरीदने के बाद उसी दिन अपनी पोजीशन को स्क्वायर ऑफ यानी बेचना होता है. अगर ऐसा नहीं करते है तो ऑटो स्क्वायर ऑफ का भी विकल्प होता है जो ब्रोकर द्वारा प्रदान की जाती है।
  • शॉर्ट सेलिंग – इसका मतलब है एक ट्रेडर अपने ब्रोकर से शेयर उधार लेकर बेचता है इस उम्मीद में कि शेयर की कीमत गिरने वाली है और वापस उसे कम कीमत पर खरीदता है।
  1. अपने क्षमता से ज्यादा जोखिम न उठाएं 

आपको अपनी जोखिम क्षमता के अनुसार ही निवेश या ट्रेड करें। शेयर मार्केट में निवेश करने के लिए एक रणनीति बनायें। एक ट्रेडर के रूप में, आपको कम समय में अधिक पैसा बनाने की जल्दी में नहीं होना चाहिए। मार्केट और प्राइस मूवमेंट को ध्यान से देखें और फिर निर्णय लें।

शेयर बाजार में नुकसान से बचने के टिप्स

शेयर बाजार में निवेश करना और लाभ कमाना हर कोई चाहता है पर इसमें निवेश के नियमों और सावधानियों के बारे में सही जानकारी न होने के कारण अधिकांश या तो पैसे लगाते नहीं या लगाते भी हैं।  तो बहुत थोड़े वक्त के लिए. शेयर बाजार निवेशकों के लाभ कमाने की एक बहुत अच्छी जगह है।  पर निवेश करते हुए अगर कुछ सावधनियां अपनाई जाएं तो यह नुकसान के खतरे को दूर रखते हुए बहुत लाभकारी हो सकता है।

लंबे समय के लिए पैसे लगाना ज्यादा लाभकारी है: शेयर बाजार में निवेश करते हुए कई अक्सर छोटे निवेशक पैसे लगाते हुए बहुत घबराते हैं। उन्हें बाजार के उतार-चढ़ाव में पैसे डूब जाने का खतरा रहता है. ऐसे में वे अक्सर बहुत थोड़े समय के लिए पैसे लगाते हैं। कई छोटे निवेशक तो सुबह पैसे लगाते हैं और शाम को बेच देते हैं। यह गलत है. यह आपको बड़ा मुनाफा कमाने में सबसे बड़ा रोड़ा है. अधिकांश छोटे निवेशक सुबह में शेयर खरीदते हैं और शाम तक उसकी बढ़ी हुई कीमत का लाभ लेकर उसे बेच देते हैं। इस तरह आप अपने निवेश पर छोटा लाभ जरूर कमा सकते हैं पर बड़े लाभ के लिए आपको निवेश की अवधि लंबी करनी करनी होगी।

मि. गुप्ता ने 10 हजार की इंफोसिस और विप्रो की शेयर सोमवार सुबह खरीदी. शाम होते-होते शेयर की कीमत 14 हजार के करीब देखकर 4 हजार के लाभ के साथ बेच दिया। दूसरे दिन उन्होंने उस 14 हजार के शेयर खरीदे और शाम में 20 हजार पर बेच दिए. इसी तरह मि. गुप्ता अपने शेयर लाभ के साथ खुश थे. मिले हुए प्रॉफिट को भी शेयर में लगाकर वे उससे और भी ज्यादा प्रॉफिट कमा रहे थे. इसी तरह 7 दिनों में उन्होंने 10 हजार से एक लाख की राशि बनाई जिसे ज्यादा लाभ के लिए वापस शेयर में लगा दिया. अचानक शनिवार की शाम उन्हें शॉक दे गया, उनकी 1 लाख की पूंजी डूब चुकी थी. मि. गुप्ता रोज सुबह अपनी बढ़ी हुई रकम से कम मूल्य वाले शेयर खरीद लिया करते थे और शाम में जो भी लाभ मिलता वह उसे लाभ मानकर, उसे बेचकर फिर दूसरी कम कीमत की ज्यादा शेयर खरीद सकते थे। लेकिन उस दिन उनका गणित उल्टा पड़ गया। वास्तव में मि. गुप्ता को अपने शेयर को लंबे समय के लिए रखना चाहिए था। अगर ऐसा करते तो कंपनी की बढ़ती शेयर कीमतों के साथ उनके शेयर की कीमत भी बढ़ती। अगर बीच में कभी शेयर मूल्य गिरते भी तो भी कुछ बाद वे बढ़ भी जाते. इस तरह लंबे समय के लिए निवेश कर वे इस रोज-रोज के मानसिक व्यायाम से भी बच जाते और आज इस परेशानी में भी नहीं पड़ते।

वही पैसा लगाएं जिसका लंबे समय तक आपको काम न हो: कई बार देखा जाता है। कि निवेशक अपने जरूरी खर्चों के लिए उपयोग की राशि को शेयर में लगा देते हैं। ऐसे में वे न तो इसे लंबे समय तक इसमें लगाकर रख सकते हैं और न ही इसमें होने वाले नुकसान को वहन कर सकते हैं। ऐसे निवेशकों के लिए शेयर में निवेश बहुत खतरे वाला सौदा होता है। अगर लाभ हुआ तब तो ठीक, पर नुकसान की स्थिति इनके लिए मानसिक और आर्थिक अशांति लाने वाला साबित होता है। इसलिए निवेशक कभी भी जरूरत के पैसों को न लगाएं. ऐसे पैसे लगाएं जिन्हें हानि-लाभ की चिंता न करते हुए आप बाजार में लगाकर रख सकें।

भारतीय स्टेट बैंक के शेयर कैसे ख़रीदे

शेयर कैसे ख़रीदे Risk Bone बनाकर?

-: Risk Bone:-

Investment: 10,000 rs

Formula: (Investment ÷ 2 = Demat Saving – 1,000 = Invest Money)

Example: (Investment ÷ 2 = Demat Saving) 10,000 ÷ 2 = 5,000 Demat Saving

(Demat Saving – 1000 = Invest Money 5,000 – 1,000 = 4,000)

Solution: Demat Saving = 5,000, Invest Money = 4,000

सबसे पहले अपने Demat account में Demat saving amount डालना है उसके बाद आपको invest money को calculate करना है।

अपनी invest money से कितने shares खरीद पायेंगे और फिर आपको उतने shares खरीदने है और उनकी price बढ़ने तक का इंतजार करना है।

Share Calculation Formula

– : Share Calculating Formula:-

Formula: (Invest Money ÷ Share price = shares)

Example: (Invest Money ÷ Share Price = Shares)

(4,000 ÷ 301 = 13.28 Shares)

Total No of Shares = 13

इस कैलकुलेशन के हिसाब से हमे SBI के 13 shares खरीदने है।

Demat Account Limit Calculation Formula

-: Demat Account Limit calculation:-

Formula: (Demat saving x 5 times limit)

Example: (Demat Saving x 5 times limit)

(4,000 x 5 = 20,000)

Limit बढ़ने पर चलिए SBI के share भी calculate कर लेते है की 20000 रुपए के कितने share मिलेंगे।

– : Share Calculating Formula:-

Formula: (Invest Money ÷ Share price = shares)

Example: (Invest Money ÷ Share Price = Shares)

(20,000 ÷ 301 = 66.44 Shares)

Total No of Shares = 66

अब आपको 66 शेयर खरीदने है और Price बढ़ने तक का wait करना है।

अगर आप ध्यान से इस पर काम करें तो बहुत कम समय अच्छे पैसे कमा सकते हैं. शेयर मार्केट में ऑनलाइन शेयर खरीदने से पहले किन बातों पर सबसे ज्यादा ध्यान रखना है ये भी आप समझ चुके हैं।

शेयर कैसे खरीदें और बेचें पूरी जानकारी