हैकिंग क्या है? और हैकर कैसे बनें। (What is hacking? And how to become a hacker)

हैकिंग क्या है और हैकर कैसे बनें।

आज के समय में इंटरनेट पर कार्य करने पर हैकिंग से सम्बंधित समस्याओं का सामना करना पड़ता है। हैकिंग विश्व में बहुत अधिक प्रसिद्ध हो रहा है, लोगो की रुची हैकिंग के प्रति बढ़ती जा  रही है। युवाओ में हैकिंग को लेकर काफी उत्सुकता देखने को मिलती है। कई लोग हैकर बनना चाहते है, इसके लिए कई प्राइवेट कॉलेज, इंस्टिट्यूट में हैकिंग का कोर्स संचालित करते है। इसकी सहायता से आप एक हैकर बन सकते है।

हैकिंग का सीधा मतलब बिना अनुमति किसी के कंप्यूटर, डाटा या सिस्टम में घुस कर उस पर काबू पाना और उसकी जानकारी हासिल करना हैकिंग कहलाता है। यह जानकारी किसी अच्छे काम के लिए भी हो सकता है और किसी के नुकसान के लिए भी. बहुत से लोगो का यह मानना होता है की हैकिंग एक क्राइम है। और ऐसा करने पर जेल भी हो सकती है. लेकिन यह पूरी तरह सच नहीं है हैकिंग से आपको तभी जेल हो सकती है जब आप इसका इस्तेमाल किसी को नुकसान पहुँचाने के लिए करते हो. हैकर अगर किसी कंपनी या सरकारी वेबसाइट के सिक्यूरिटी को मजबूत करने के लिए करते है तो इसके उन्हें पैसे भी मिलते है और यह क्राइम भी नहीं माना जाता. आजकल हर बड़ी कंपनी अपने ऑनलाइन वेबसाइट को हैक होने से बचाने के लिए हैकर को नौकरी पर रखते है इस तरह से कोई भी हैकिंग में अपना करियर बना सकता है. मेरे हिसाब से भी अगर किसी को हैकिंग आती है तो इसका इस्तेमाल किसी के मदद के लिए करना चाहिए किसी को नुकसान पहुँचाने के लिए नहीं करना चाइए।

हैकिंग क्या है? (What is hacking)

हैकर वह होता है जो किसी गुणन की कमियों को उजागर करता है और उसे ठीक करने के लिए नए समाधान खोजता है।  इलेक्ट्रॉनिक्स की दुनिया के अनुसार, एक हैकर वह है जो किसी भी कंप्यूटर, कंप्यूटर प्रोग्राम और नेटवर्क में एक कमजोर बिंदु पाता है और उसे ठीक करता है।

तो दोस्तों, जब भी हम ‘हैकर (Hacker)’ शब्द सुनते हैं, तो हमारे सामने एक चेहरा आता है, जिसकी आँखों पर बड़ा सा चश्मा और कंप्यूटर की तरह बहुत ही तेज़ दिमाग वाला व्यक्ति, जो कंप्यूटर एक्सपर्ट होता है, जो किसी भी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को हैक कर सकता है।

हम में से अधिकांश लोग इस तरह के हैकर के प्रति आकर्षित होते हैं, क्योंकि ऐसे हैकर का काम बहुत ही रोचक और दिलचस्प होता है, जो हम में से अधिकांश लोगों को पसंद आता है।

यही वजह है कि बहुत से छात्र हैकर बनना चाहते है, इसी वजह से बहुत से छात्र हैकर कैसे बनें? हैकर बनने के लिए क्या आवश्यक है? से संबंधित जानना चाहते है। अगर आप भी हैकर कैसे बनते है, से संबंधित जरुरी जानकारी से परिचित होना चाहते हैं, तो यह लेख आपके लिए ही है. आइये आगे बढ़ते है और हैकर्स के प्रकारो के बारे में जानते है।

हैकर्स के प्रकार (Types of Hackers)

लोग मानते हैं कि हैकिंग एक अपराध है, और ऐसा करने पर जेल हो सकती है, लेकिन यह पूरी तरह सच नहीं है। कहने का मलतब, अगर आप किसी को नुकसान पहुंचाने के लिए हैकिंग करते हैं, तो हैकिंग अपराध है, तब आपको जेल हो सकती है.।

जैसे उदाहरण के लिए, यदि आपके घर में एक चाकू है, तो यह तब तक अच्छा है, जब तक आप इसका उपयोग सब्जियां काटने के लिए करते हैं। लेकिन जब आप इसका इस्तेमाल किसी को चोट पहुंचाने के लिए करते हैं, तो यह अपराध है, ऐसा ही हैकिंग (Hacking) के बारे में है। तो दोस्तों, अब आप समझ चुके होंगे कि हैकिंग कब सही और कब गलत है। 

हैकर कितने प्रकार के होते हैं। तीन प्रकार के हैकर्स होते है, उनमे से आपको ये तय करना होगा कि आप किस तरह के हैकर (Hacker) बनना चाहते हैं।

1. ब्लैक हैट हैकर्स (Black hat hackers)

इनका काम किसी के वेबसाइट डेटाबेस को चुराना, किसी के क्रेडिट कार्ड को हैक करना, कंप्यूटर वायरस आदि के साथ सिस्टम को नियंत्रित करना है। ऐसे हैकर्स को बहुत खतरनाक माना जाता है, जिन्हें पकड़ना आसान नहीं होता है, क्योंकि वे अपना सभी काम गुप्त रूप से करते हैं।

2. व्हाइट हैट हैकर्स (White hat hackers)

ऐसे हैकर्स अच्छे काम के लिए जाने जाते हैं, क्योंकि इनका काम दूसरों को खराब हैकर्स से बचाना है। ये हैकर्स कंपनियों में, सरकारी विभागों में आईटी प्रोफेशनल के रूप में कार्य करते है।

3. ग्रे हैट हैकर्स (Gray hat hackers)

इस तरह के हैकर्स अच्छे काम के साथ-साथ बुरे काम भी करते हैं। उनके हैक का उद्देश्य केवल लोगों को परेशान करना होता है. वे किसी के लिए काम नहीं करते हैं, ये केवल शौक के लिए हैकिंग करते है।

दोस्तों, यदि आप हैकिंग में अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो मेरी राय है कि आपको व्हाइट हैट हैकर बनना चाहिए। इसमें करियर की काफी संभावनाए है। इसमें आप अपने नाम के साथ-साथ अच्छा खासा पैसा भी कमा सकते है।

हैकिंग के प्रकार (Types of Hacking)

हैकिंंग को हम अलग अलग कटेगरी में बाँट सकते हैं, इसके लिए हम ये नज़र करेंगे की क्या चीज़ हेक हुआ है। आपको समझाने के लिए में आप लोगों को कुछ उदहारण प्रस्तुत करता हु।

  • वेबसाइट हैकिंग इस प्रकार के हैकिंंग का मतलब है की किसी वेब सर्वर और उसके असोसिएटेड सॉफ्टवेर जैसे की डेटाबेस और दुसरे इंटरफेस के ऊपर अनधिकृत नियंत्रण प्राप्त करना।
  • नेटवर्क हैकिंग − इस प्रकार के हैकिंंग का मतलब है की किसी नेटवर्क के ऊपर सभी जानकारी प्राप्त करना और जिनके लिए कई उपकरण हैं जैसे की Telnet, NS lookup, Ping, Tracert, Netstat, इत्यादि. ऐसा करने का मुख्य उद्देश्य केवल नेटवर्क सिस्टम और उसके ऑपरेशन को नुकशान पहुँचाने का है।
  • ईमेल हैकिंग − इस प्रकार के हैकिंंग का मतलब है की इसमें हैकर बिना ओनर के पर्मिशन के ही उसके ईमेल अकाउंट पर अनधिकृत पहुंच प्राप्त कर लेता है. बाद में जिसे वो अपने अवैध कामों के लिए इस्तमाल करने वाला होता है।
  • एथिकल हैकिंग − इस प्रकार के हैकिंंग का मतलब है की किसी सिस्टम या नेटवर्क के वीकनेस को पहचानना और उसे ठीक करने में ओनर की मदद करना ये एक सुरक्षित हैकिंग प्रक्रिया हैं जिसमें ओनर के देखरेख में सभी कार्य किये जाते हैं।
  • पासवर्ड हैकिंग − इस प्रकार के हैकिंंग का मतलब है की जिसमें गुप्त पासवर्ड को रिकवर किया जाता है डाटा से जिन्हें की कंप्यूटर प्रणाली में स्टोर किया या संचारित किया जाता है किसी कंप्यूटर प्रणाली के द्वारा
  • कंप्यूटर हैकिंग − इस प्रकार के हैकिंंग का मतलब है की जिसमें की हैकर किसी कंप्यूटर प्रणाली के कंप्यूटर आईडी और पासवर्ड को जान जाता है हैकिंंग मेथड के इस्तमाल से एयर जिससे वो किसी कंप्यूटर प्रणाली पर अनधिकृत पहुंच प्राप्त कर लेते हैं। इससे ओनर को अपने डाटा के चोरी होने का खतरा होता है।
हैकर बनने के लिए क्या-क्या जरूरी है? (What do you Need to Become a Hacker)

वैसे तो, हैकिंग सीखने या हैकर बनने के लिए आपको किसी डिग्री या डिप्लोमा की पढाई करने की जरूरत नहीं है, लेकिन इसके बिना ये इतना आसान भी नहीं है. यदि आप निम्नलिखित विषयों की पढाई करेंगे, तो हैकर बनना या हैकिंग सीखना आपके लिए आसान हो जाएगा. इसलिए निम्नलिखित स्टेप को फॉलो करे।

Step 1. सबसे पहले 12 वीं पास करे

अगर आप हैकिंग सीखना चाहते है, या हैकर (Hacker) बनना चाहते हैं, तो सबसे पहले आप 12 वीं पास करें। यदि संभव हो तो, 12 वीं कक्षा विज्ञान पीसीएम (Science PCM) विषय से पास करे।

Step 2. डिप्लोमा या डिग्री कोर्स करे 

यदि आप हैकर बनना चाहते हैं, तो आपको निम्नलिखित डिप्लोमा या डिग्री कोर्स करना चाहिए. इन कोर्स को करने के बाद आपको कोडिंग, प्रोग्रामिंग का अच्छा ज्ञान हो जाएगा। यदि आप 12वीं के बाद डिप्लोमा कोर्स करते हैं, तो उसके बाद आपको डिग्री कोर्स भी करना चाहिए।

  • Diploma in Computer Science Engineering
  • BCA (Bachelor of Computer Application).
  • B.Sc in Computer Science.
  • B.tech in Computer Science Engineering.
  • B.tech in Electronics and Communication Engineering.
Step 3. एथिकल हैकिंग (Ethical Hacking) सीखे

हमारे देश में हैकिंग सीखने के लिए कई एथिकल हैकिंग कोर्स उपलब्ध है, जिनकी सूची नीचे दी गई है, जिनका आप अपने मन मुताबिक चयन कर सकते है।

  • Master Certificate in Cyber ​​Security (Red Team) – Ara Academy and Hackeru.
  • Stanford Advanced Computer Security Program – Great Learning.
  • PGP in Cyberspace – Prixis Business School.
  • Certified Ethical Hacker and Certified Information System Security Professional – SimpleNear.
  • PG Diploma / M.Tech in Cyberspace – Reva University.
  • Post Graduate Diploma in Cyberspace – Amity Online.
  • Cyberspace Certification Course – Educa.
  • Post-Graduate Program in Cyberspace – IIDT.
  • Cyber ​​Pro Track – PurpleSpinpz.
  • Certified Information Security Consultant – Institute of Information Security.
हैकर बनने के लिए कौन सी स्किल्स होनी चाहिए? (What are the skills required to become a hacker)
1. Learn Basic Computer Fundamentals

हैकिंग सीखने के लिए आपको कंप्यूटर की बेसिक जानकारी होनी चाहिए। जैसे- कंप्यूटर को आंतरिक रूप से कैसे एक्सेस करें, कंप्यूटर का डॉस कमांड क्या है, इसे कैसे एक्सेस करें, और इसके अंदर के सभी कमांड्स के बारे में आपको पता होना चाहिए।

केवल यहीं नहीं, आपको रेजिस्टरी के बारे में भी पता होना चाहिए कि रेसिस्टरी क्या है, आप रेसिस्टरी को कैसे संपादित और संशोधित कर सकते हैं, हैकिंग सीखने के लिए आपको कंप्यूटर की बेसिक जानकारी में यह सब पता होना चाहिए।

2. Learn Programming Language

अगर आप हैकिंग सीखना चाहते हैं, तो आपको प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का ज्ञान होना बहुत जरूरी है. क्योंकि एक अच्छे हैकर को सभी प्रोग्रामिंग भाषाओं का बहुत अच्छा ज्ञान होता है।

इसलिए क्योंकि प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बिना आप चीजों को नहीं समझ पाएंगे और जब तक आप चीजों को नहीं समझेंगे, तब तक आप कुछ भी नहीं सीख पायेंगे, ध्यान रहे: प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बलबूते ही आप हैकर बन सकते हैं।

प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में आप HTML, SCRIPTING LANGUAGE, PHP, RUBY या C LANGUAGE भी सीख सकते हैं. क्योंकि शुरुआत में आपके लिए हैकिंग किसी सपने के बराबर होगी, जब आप प्रोग्रामिंग लैंग्वेज नहीं सीखते. इसलिए अगर आप हैकिंग सीखना चाहते हैं, तो शुरुआत में आपको कम से कम दो से अधिक प्रोग्रामिंग भाषाओं का ज्ञान होना बहुत जरूरी है।

3. Networking Skills

अगर आप हैकिंग सीखना चाहते हैं, तो आपके पास नेटवर्किंग स्किल्स का होना बहुत जरूरी है। इसमें आपको TCP/IP क्या होता है, SUB-NET क्या होता है, TELL-NET क्या होता है, ROUTER क्या है, HUB क्या है, SWITCH क्या है, यह सीखना होगा। क्योंकि एडवांस लेवल पर ये चीजे आपको नहीं सिखाई जाएगी, इसलिए इन सभी चीजों की आपको बेसिक जानकारी होना बहुत जरुरी है।

4. Linux Skills

यदि आप हैकिंग सीखना चाहते हैं, और आप अपने कंप्यूटर में विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम चलाते हैं, तो आपको लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग करने की आदत डालनी होगी. क्योंकि हैकिंग सीखने के लिए आपके पास लिनक्स स्किल का होना बहुत जरुरी है।

लिनक्स के बिना आप किसी भी तरह की हैकिंग नहीं कर सकते, क्योंकि लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्टम में सभी प्रकार के हैकिंग टूल बनाए गए हैं, जो अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम में नहीं बने होते हैं, इसलिए आपको लिनक्स सीखना होगा।

5. Database Skills

अगर आप एक बेहतर हैकर (Hacker) बनना चाहते हैं, तो आपको डेटाबेस का ज्ञान होना अनिवार्य है। जैसे, डेटाबेस क्या है, डेटाबेस कैसे काम करता है, यह कैसे बनता है, टेबल को कैसे अपडेट और डिलीट किया जाता है, इन सभी चीजों के बारे में आपको जानना बहुत जरूरी है। क्योंकि अगर आपको इन सभी चीजों के बारे में जानकारी नहीं होगी, तो आप हैकिंग नहीं सीख पायेंगे।

तो दोस्तों, ये थी कुछ बेसिक स्किल जिसके बिना आप एक अच्छा हैकर (Hacker) नहीं बन सकते है। यदि आप एक अच्छा हैकर बनना चाहते हैं, तो पहले आपको उपरोक्त बेसिक स्किल्स को समझना बहुत जरूरी है, तभी आप एडवांस लेवल की हैकिंग सीख पायेंगे।

भारत के कुछ बेहतरीन एथिकल हैकर्स (Some of the best ethical hackers in India)

आपको सुनने में बड़ा आश्चर्य लग सकता है लेकिन ये सच है की भारत के कुछ एथिकल हैकर्स पुरे विस्व में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध हैं। हाँ दोस्तों ये सही बात है क्यूंकि हमारे हैकर्स एथिकल हैकिंग के क्षेत्र में सबसे आगे हैं। तो चलिए इन्ही एथिकल हैकर्स के विषय में जानते हैं। ऐसे लोग जो की हमारे देश का नाम ऊँचा कर रहे हैं।

    • Rahul Tyagi
    • Ankit Fadia
    • Trishneet Arora
    • Manan Shah
    • Vaidehi Sachin
    • Sahil Khan
हैकिंग की ट्रेनिंग कैसे मिलेगी (how to get hacking training)

आजकल बहुत से इंस्टिट्यूट है जहा पर आप एथिकल हैकिंग की ट्रेनिंग ले सकते हो इन सभी इंस्टिट्यूट के नाम आपको गूगल करने पर मिल जायेंगे। अगर आपके पास इंस्टिट्यूट ज्वाइन करने के पैसे नहीं है तो आप इसे ऑनलाइन भी यूट्यूब से सिख सकते हो। अगर आप ऑनलाइन ही किसी अच्छे जगह से हैकिंग सीखना चाहते हो तो Udemy पर सीखना ज्यादा बेहतर होगा।

  • हैकिंग एक्सपेरिमेंट्स आप जितने ज्यादा करते हो उतने जल्दी हैकिंग एक्सपर्ट बनोगे।
  • हैकिंग का कोई निश्चित समय नहीं है की आप इतने समय में हैकिंग सिख जाओगे. यह पुरे तरह से आपके मेहनत और ज्ञान पर निर्भर करता है।
  • अगर आपको हैकिंग आती है तो किसी तरह की सर्टिफिकेट की जरुरत नहीं होती खुद को साबित करने के लिए।  लेकिन अगर आप सर्टिफिकेट चाहते है तो EC-Council एग्जाम पास करके सर्टिफिकेट पा सकते हो।
  • हैकिंग सिखने के लिए कोई उम्र सीमा नहीं है वैसे मेरे हिसाब से 18+ के बाद ही सीखना चाहिए क्यूंकि इसके बाद हमें सही गलत की समझ हो जाती है।
  • हैकिंग किसी भी स्ट्रीम का छात्र सिख सकता है चाहे वो आर्ट्स, कॉमर्स या साइंस से हो.
  • हैकिंग सिखने के बाद आप किसी कंपनी में काम कर सकते हो और उनके ऑनलाइन फाइल, डाटा को सुरक्षित रखने में मदद कर सकते हो।
  • हैकिंग से पैसे कमाने के लिए एक दूसरा तरीका बग बाउंटी प्रोग्राम होता है जिसमे हिस्सा लेने के बाद अगर आप सिस्टम में कमी निकालते हो तो खूब पैसे मिलते है. बग बाउंटी प्रोग्राम आजकल सभी बड़ी कंपनी में होता है जैसे की गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, एप्पल आदि. इन्टरनेट पर आप कंपनी नाम के साथ बग बाउंटी लिखकर सर्च कर सकते हो।
हैकर्स के लिए एथिकल हैकिंग टूल्स और सॉफ्टवेयर (Ethical Hacking Tools & Software for Hackers)

तो दोस्तो आपकी आपजानकारी के लिए बता दूं कि इंटरनेट पर हैकिंग के कई उपकरण और सॉफ्टवेयर उपलब्ध हैं, लेकिन यहां मैं केवल महत्वपूर्ण टूल्स और सॉफ्टवेयर के बारे में बताऊंगा। नीचे हमने कुछ प्रसिद्ध सॉफ्टवेयर और टूल्स की लिस्ट दी है, जिनका हैकर्स द्वारा उपयोग किया जाता हैं।

  • Netsparker
  • Acunetix
  • Traceroute NG
  • GFI LanGuard
  • Burp Suite
  • Ettercap
  • Aircrack
  • Angry IP Scanner
  • Savvius
  • QualysGuard
  • WebInspect
  • Hashcat
  • L0phtCrack
  • Rainbow Crack
  • IKECrack
  • IronWASP
  • Medusa
  • NetStumbler
  • SQLMap
एथिकल हैकिंग के लिए कोर्स (course for ethical hacking)
    • सीसीएनए सर्टिफिकेशन
    • सर्टिफाइड एथिकल हैकर
    • पीजी डिप्‍लोमा इन साइबर लॉ
    • सर्टिफिकेट कोर्स इन साइबर लॉ
    • एडवासं डिप्‍लोमा इन एथिकल हैकिंग
    • सर्टिफाइड इंर्फोमेशन सिस्‍टम सिक्‍योरिटी प्रोफेशन
    • एसएससी साइबर फॉरेंसिक्‍स एंड इंर्फोमेशन सिक्‍योरिटी
    • पीजी डिप्‍लोमा इन डिजिटल एंड साइबर फॉरेंसिक्‍स
एथिकल हैकिंग के लाभ (Advantages of Ethical Hacking)
  • इससे आप अपने खोई हुई जानकारी को रिकवर कर सकते हैं, ख़ास तौर पर जब आप अपने पासवर्ड भूल जाते हैं।
  • इससे हम पैठ परीक्षण प्रदर्शन कर सकते हैं। जिससे हम किसी कम्प्युटर या नेटवर्क सुरक्षा की शक्ति की जाँच कर सकते हैं।
  • इससे हम सुरक्षा टूटी को रोकने के लिए पर्याप्त निवारक उपाय ले सकते हैं।
  • इसे सिखने पर हम अपने कम्प्युटर को दुर्भावनापूर्ण हैकर्स से बचाने में इस्तमाल कर सकते हैं।
एथिकल हैकिंग के नुकसान (Disadvantages of Ethical Hacking)
  • सबसे पहले ये की एथिकल हैकिंग सिखने पर लोग पैसों के लालच में आपके गलत काम करने लगते हैं.।
  • इससे हम किसी के सिस्टम पर अनधिकृत पहुंच प्राप्त कर उनके निजी जानकारी को जान सकते हैं।
  • इससे हम गोपनीयता उल्लंघन भी कर सकते हैं।
  • यदि उल्टा इस्तमाल किया गया तब किसी सिस्टम ऑपरेशन को नुकशान भी पहुंचा सकते हैं।

तो दोस्तों यह थी हैकिंग क्या है? और हैकर कैसे बनें। पूरी जानकारी आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं। अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं। यह आर्टिकल पढ़ने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद।