गूगल क्रोम क्या है? यह कैसे काम करता है?

गूगल क्रोम एक वेब ब्राउज़र है यह दुनिया का सबसे बेहतरीन ब्राउज़र है। ज्यादातर लोग इसी का उपयोग करते हैं। गूगल क्रोम सभी डिवाइस में इस्तेमाल किया जा सकता है जैसे कंप्यूटर, मोबाइल, टैबलेट आदि। इसका इस्तेमाल इंटरनेट पर किसी भी वेबसाइट ब्लॉग आदि को ब्राउज़ करने या इंटरनेट पर सर्च करने के लिए प्रयोग किया जाता है। गूगल क्रोम बहुत ही तेजी से काम करता है। इंटरनेट का सारा काम इसी की मदद से किया जाता है। इसका इस्तेमाल करना भी बहुत ही आसान है।

गूगल क्रोम के अंदर बहुत सारे Features दिए गए होते है जो यूज़र के लिए बहुत ही ज़रुरी होते है। क्रोम ब्राउज़र के बहुत सारे एक्सटेंशन होते है जिसे आप अपने इस्तेमाल या जरूरत के अनुसार क्रोम ब्राउज़र में जोड़ सकते है।

क्रोम की खोज

गूगल क्रोम ब्राउज़र को सबसे पहले रिलीज़ किया गया 2 सितंबर 2008 में, वह भी विंडोज में, और बाद में दुसरे ओएस के लिए भी इसे बनाया गया।Eric Schmidt

Chrome को Google Inc के द्वारा बनाया गया है। उस समय के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एरिक श्मिट कुछ नया करना चाहते थे, जिससे वह Google को और बहुत बड़ा बनाना चाहते थे। उस समय लैरी पेज और सर्गेई बिन, जो की सह-संस्थापकों में से एक है, उन्होंने कुछ डेवलपर्स को मोज़िला फ़ायरफ़ॉक्स और एक नए प्रोटोटाइप में काम करना शुरू किया। बस और क्या था उन्ही के कठिन परिश्रम का फल गूगल क्रोम हैं।

Chrome का अधिकांश स्रोत कोड Google के निःशुल्क और ओपन-सोर्स सॉफ़्टवेयर प्रोजेक्ट Chromium से आता है, लेकिन Chrome को स्वामित्व फ्रीवेयर के रूप में लाइसेंस प्राप्त है। WebKit मूल रेंडरिंग इंजन था, लेकिन Google ने अंततः ब्लिंक इंजन बनाने के लिए इसे छोड़ दिया, iOS को छोड़कर सभी क्रोम वेरिएंट अब ब्लिंक का उपयोग करते हैं।

गूगल क्रोम क्या है? (What is google chrome)

गूगल क्रोम गूगल द्वारा विकसित एक क्रॉस-प्लेटफ़ॉर्म वेब ब्राउज़र है। यह पहली बार 2008 में माइक्रोसॉफ्ट विंडोज के लिए जारी किया गया था, और बाद में इसे लिनक्स, मैकओएस, आईओएस और एंड्रॉइड में पोर्ट किया गया था, जहां यह ओएस में निर्मित डिफ़ॉल्ट ब्राउज़र है। ब्राउज़र क्रोम ओएस का मुख्य घटक भी है, जहां यह वेब एप्लिकेशन के लिए प्लेटफॉर्म के रूप में कार्य करता है।

आप इसकी सहायता से हर प्रकार की जानकारी प्राप्त कर सकते है। यह सभी लोगों के लिए बिल्कुल मुफ़्त है जिसे आसानी से डाउनलोड किया जा सकता है। इसके अंदर जो भी Features दिए गए होते है वह Users के लिए बहुत ही काम के होते है। इसमें एक क्लिक में ही सारे काम किये जा सकते है।

  1. फोन मे क्रोम कैसे डाउनलोड करे?

गूगल क्रोम कई स्मार्टफोन में पहले से इंस्टाल रहता है। यदि आपके फोन में यह पहले से इंस्टाल है तो अपडेट करने का ऑप्शन मिलेगा नहीं तो इसकी जगह पर Install का ऑप्शन आएगा। आप नीचे दी गई स्टेप्स को फॉलो करके अपने फोन में गूगल क्रोम Direct डाउनलोड कर सकते है।

    • Download Google Chrome – सबसे पहले अपने मोबाइल में Google Chrome को डाउनलोड करे।
    • Install Google Chrome – डाउनलोड करने के बाद इसे इंस्टाल कर ले।
    • Open Google Chrome – अब इसे इंस्टाल करके ओपन कर ले।

2. कंप्यूटर पर क्रोम कैसे डाउनलोड करें?

अपने कंप्यूटर में Google Chrome डाउनलोड कैसे करे

चरण 1. सबसे पहले आपको Google Chrome Website पर जाना होगा।
चरण 2. अब Download गूगल क्रोम के ऑप्शन पर क्लिक करे।
चरण 3. इसके बाद आपको Accept And Install की बटन पर क्लिक करना है। अब यह इंस्टाल होना शुरू हो जाएगा।
चरण 4. इसके बाद आपके सामने Run का ऑप्शन आएगा उस पर क्लिक कर दे।

गूगल क्रोम कैसे उपयोग करे? (How to use google chrome)

गूगल क्रोम डाउनलोड करने के बाद अब आपको इसका इस्तेमाल करना है। गूगल क्रोम में आपको बहुत सारे Features मिलते है जिसका आप इस्तेमाल कर सकते है।

    • सबसे पहले अपना गूगल क्रोम ओपन करे। इसमें सबसे उपर आपको एड्रेस बार दिखेगा जहाँ आप कुछ भी सर्च कर सकते है। यहाँ आप जैसे ही कोई भी कीवर्ड डालकर Enter करते है आपको Google Search के रिजल्ट मिल जाते है।
    • अब इसमें आपको उपर Right Side में 3 Dot दिखेंगे जिस पर क्लिक करने से आपको गूगल क्रोम के सारे ऑप्शन मिल जाएँगे। आप New Tab पर क्लिक करके नई Tab ओपन कर सकते है।
    • ऐसे ही इसमें आपको सभी तरह के ऑप्शन मिलेंगे जिसका आप गूगल क्रोम में इस्तेमाल कर सकते है।
    • और इसके पास आपको एक You का ऑप्शन मिलेगा जो गूगल क्रोम का नया अपडेट है इसमें अपनी ईमेल आई-डी से Sign In करे। आप आपके ऑफ़िस, घर या फोन के एप्प्स, एक्सटेंशन, सेटिंग, पासवर्ड, बुकमार्क्स, थीम्स आपको सब वहीं मिल जाएँगे। अगर इसे आपने अपडेट नहीं किया है तो इसे अपडेट कर लीजिये।

गूगल क्रोम इतना सफल क्यूं है? (Why is Google Chrome so successful)

1. प्रयोज्यता और न्यूनतमता (Usability and Minimalism)- ऐसे क्या कारण हैं जो की गूगल क्रोम को दुसरे ब्राउज़र से बेहतर बनाता है।जब Google Chrome को पहली बार बाजार में लॉन्च किया गया था तब ये अपने प्रतिस्पर्धियों (फ़ायरफ़ॉक्स और ओपेरा) से काफी बेहतर थे। इसकी प्रयोज्य बाकियों से बेहतर था और साथ में इसके ब्राउज़र की न्यूनतर दृष्टिकोण भी लोगों को काफी पसंद आयी थी। अभी भी आप ये देख सकते हैं कि क्रोम ने अपने मुख्य पृष्ठ में ज्यादा अव्यवस्था भर्ती नहीं की है। क्रोम ने अपने अंतरिक्ष का कुशलतापूर्वक इस्तमाल किया है। अभी तक और टूलबार नहीं है और सभी चीज़ों को अपने स्थान में सही तरीके से रखा गया है।

2. मजबूती (Robustness)- आसान भाषा में कहूँ तब क्रोम बहुत तेजी से संचालित होता है बाब ब्राउज़र के तुलना में क्यूई इसका प्रतिपादन इंजन और जावास्क्रिप्ट इंजन (वी 8) के कारण है। साथ में गति को लेकर हमेशा इसके एल्गोरिथ्म में जरुरी बदलाव किए जाते हैं।

3. गूगल (Google)- सच में Google Chrome के पीछे Google के होने से ये इसका प्रचार और बहुत कुछ हो जाता है। अगर हम उपभोक्ता के नज़रिए से देखें तो मुँह की पब्लिसिटी ज्यादा कारगार होती है, बेबीक पब्लिसिटी की तुलना में है। कभी कभी आपने भी देखा होगा की Google भी अपने मुख्य पृष्ठ में क्रोम की विज्ञापन लगता है, वहीँ दुसरे उत्पादों में भी आपको कभी क्रोम के विज्ञापन दिखाई देंगे।

4. बाजार का समय (Market timing)- Google ने Chrome को एक बहुत ही सही समय में पेश किया जब सॉफ्टवेयर क्लाउड पर चाल चल रहे थे। इस बार सास मॉडल के साथ Google बाकियों से आगे था (इसके उत्पाद GMail, Google कैलेंडर भी बहुत ही बेहतर थे और लोगों को बहुत पस्तन आये)। वही अचानक लोगों ने बहुत से छोटे कार्यक्रमों का इस्तमाल करना बंद कर दिया और वेब-ऐप के पक्ष स्विच कर गए।

6. खोज एकीकरण (Search Integration)- बहुत से उपयोगकर्ता समान खोज एकीकरण सुविधा के कारन क्रोम का इस्तमाल करते हैं। क्यूंकि इस सुविधा से एक उपयोगकर्ता सीधे केवल URL बार से ही अपनी खोज कर सकते हैं और साथ में उसी में उन्हें जरुरी सभी सुझावों को भी ध्यान से देखेंगे। साथ में अगर आप किसी को किसी उत्पाद की कीमत को जानना चाहते हैं तो तब आप केवल खोज में उसके विषय में टाइपिंग से ही आप सभी वेबसाइटों की कीमतों में उसी उत्पाद की उपस्थिति लगेगी।

SHARE