डिजिटल वॉलेट क्या है? और यह कैसे काम करता है।

what is Digital wallet & e wallet

डिजिटल वॉलेट या ई-वॉलेट (ई-वॉलेट) का फूल फॉर्म है। इलेक्ट्रॉनिक वॉलेट (इलेक्ट्रॉनिक वॉलेट) जो की ऐसी एक वॉलेट को दर्शाता है जो भौतिक नहीं है बस इसका एक डिजिटल अस्तित्व है जिसे केवल ऑनलाइन ही देखा जा सकता है। यह एक प्रकार का इलेक्ट्रॉनिक कार्ड होता है जिसका उपयोग केवल कंप्यूटर या स्मार्टहॉफ़ (स्मार्टफोन) के ज़रिए ही ऑनलाइन लेनदेन के लिए किया जाता है। इस ई-वॉलेट की उपयोगिता क्रेडिट या डेबिट कार्ड की तरह ही जिसके बारे में मैंने पहले ही कहा है। इस प्रकार की सुविधा का लाभ उठाने के लिए या भुगतान करने के लिए ई-वॉलेट को व्यक्ति (व्यक्ति) के बैंक (बैंक) खाने के साथ अप करने की आवश्यकता होती है। ई-वॉलेट (E wallet in hindi) का मुख्य उद्देश्य कागज़लेस (कैशलेस) धनराशि स्थानांतरण को अधिक आसान बनाना है।

जैसे की मैंने पहले भी कहा है की अब भारत को पूरी तरह से डिजिटल बनाया जा रहा है इसलिए हमारे देश को एक कैशलेस अर्थव्यवस्था और एक सुनहरे डिजिटल भविष्य की और लिया जा रहा है जिसके लिए सरकार द्वारा बहुत से उपायों को अमल में लाया जा रहा है। है। ऐसे में डिजिटल भुगतान व्यवस्था के लिए ई वॉलेट को ज्यादा सब्सिडीना मिल रहा है। ये सभी चीज़ों को मुमकिन किया जा रहा है।

ई वॉलेट के प्रकार क्या हैं?(What are the types of e wallet)

    • Closed E-Wallet
    • Semi Closed E-Wallet
    • Banking E-Wallet

Closed E-Wallet: का इस्तमाल अक्सर ई-कॉमर्स वेबसाइट में किया जाता है, जहां पर ग्राहक आसानी से अपनी जरूरत के सामान की खरीदारी कर सकते हैं।

Semo Closed E-Wallet:  का इस्तमाल हम हर मंच में भुगतान भरने के लिए कर सकते हैं। इसमें एक निश्चित राशि (निश्चित) रखी जा सकती है लेकिन इसमें से हम किसी भी तरह का नकद नहीं निकाल सकते हैं।

Banking E-Wallet: एक बहुत ही ख़ास ई-वॉलेट होता है जहाँ कहीं भी उपभोक्ता के बैंक खाते को की एक ई-वॉलेट की सकल दी जाती है। इससे ग्राहक अपने खाते को एक वॉलेट के तोर पर इस्तमाल कर सकता है।

डिजिटल वॉलेट कैसे काम करता है?

एक डिजिटल वॉलेट के कार्ड में उपयोगकर्ता की सारी जानकारी को बचाया जाता है, जिससे ग्राहक आसानी से ऑनलाइन खरीदारी कर सकता है। ई-वॉलेट या मोबाइल वॉलेट के मुख्य रूप से दो भाग होते हैं, सॉफ्टवेयर और दूसरी जानकारी। सॉफ्टवेअर भाग में व्यक्तिगत जानकारी स्टोर किया जाता है और डेटा को सुरक्षा और एन्क्रिप्शन प्रदान करता है वहीँ जानकारी के भाग में उपयोगकर्ता के द्वारा प्रदत्त वॉन्स का डेटाबेस होता है जिसमें उनका नाम, डाक पता, भुगतान विधि, भुगतान की जाने वाली राशि, क्रेडित या होती है। डेबिट कार्ड का विवरण आदि होते हैं।

अगर में डिजिटल वॉलेट या ई-वॉलेट के काम करने के विषय में बताऊँ तो ये MasterPass डिजिटल वॉलेट सबसे पहले ग्राहकों को रजिस्टर करने के लिए कहता है ताकि वह इसकी सेवा के लाभ उठा सके जिसके लिए उन्हें अपने भौतिक कार्ड की जानकारी प्रदान करनी होगी। । इन सभी सूचनाओं को उसके बाद सत्यापित किया जाता है ऑप्ट प्रमाणीकरण प्रक्रिया के माध्यम से, उसके बाद ही पंजीकरण प्रक्रिया पूरी होती है।

एक बार ये प्रक्रिया पूरी हो जाएगी, तब एक व्यक्ति इसे इस्तमाल कर सकता है कुछ भी चीज़ों को ऑनलाइन खरीद के लिए अगर वहाँ पर मास्टरपास का विकल्प मेह्जुद होने के एक भुगतान मोड के तरह। यहाँ पर भुगतान किया जा सकता है मास्टर कार्ड कार्ड आईडी और पासवर्ड को सही रूप से भराकर है। यहाँ पर लेनदेन को प्रमाणित किया जाता है, 3 डी-सिक्योर पिन या वन टाइम पासवर्ड के माध्यम से।

ऑनलाइन भुगतान के द्वारा क्या ख़रीदा जा सकता है?

जब भुगतान करने के लिए ई-वॉलेट पंजीकरण के माध्यम से वस्तुओं और सेवाओं के लिए इस्तमाल में लाया जाता है, तो ये दुसरे क्रेडिट या डेबिट कार्ड से भुगतान की तुलना में बहुत ही कम समय लगता है। हम डिजिटल वॉलेट का इस्तमाल उपयोगिता बिल, डीटीएच योजना और मोबाइल बिल या रिचार्ज करने के लिए करते हैं। ई-कॉमर्स साइट्स में आप डिजिटल वॉलेट का इस्तमाल खरीदने के लिए कर सकते हैं। चूँकि ज्यादातर ई-कॉमर्स साइट्स के दुसरे डिजिटल वॉलेट कंपनियों के साथ टाई-अप होते हैं इसलिए इसकी मदद से ग्राहक आसानी से भुगतान कर सकते हैं।

कैसे हम डिजिटल वॉलेट का इस्तमाल ई-कॉमर्स साइट में करते हैं?

    • सबसे पहले अपने ई-कॉमर्स साइट में लॉगिन करें।
    • उसके बाद संबंधित उत्पाद को अपने कार्ड में जोड़ें। फिर उसके बाद भुगतान मोड में, let वॉलेट ’का चयन करें।
    • वहाँ अपने संबंधित बटुए का चुनाव करें।
    • फिर अपनी भुगतान करें।

डिजिटल वॉलेट के फायेदे क्या हैं?

    • Digital wallets का इस्तमाल हम e-commerce websites से online खरीदारी के लिए कर सकते हैं।
    • बहुत सारे utility bills को भरने के लिए भी कर सकते है, जैसे की electricity, prepaid recharge, booking movie tickets, telephone bills इत्यादि।
    • Payment करते समय हमें बार बार ATM या Credit Card details जैसे की Card number, CVV इत्यादि को देने की जरुरत नहीं है।
    • इसके साथ खाना online मंगाने के लिए।
    • यात्रा की bookings करने के लिए।
    • अगर किसी कारणवस transaction fail हो जाता है तब हमें जल्द ही पैसे वापिस मिल जाते हैं।
    • Online fund transfer करने के लिए digital wallet के माध्यम से।
    • बहुत सारे financial products जैसे की mutual funds और insurance को खरीदने के लिए।

भारत में टॉप ई-वॉलेट कोनसे है?

1. पेटीएम (PayTm)
PayTm के वॉलेट का इस्तमाल हम बहुत से स्थानों में कर सकते हैं जैसे की खरीदारी के लिए, इलेक्ट्रिसिटी के बिल भरने के लिए, रिचार्ज मोबाइल्स और डिश टीवी, बुकिंग्स के लिए इत्यादि। इसके साथ इसे इस्तमाल करना बहुत ही आसान है और सुरक्षित भी।

2. मोबिक्विक (MobiKwik)
इस वॉलेट का इस्तमाल हम मुख्य रूप से रिचार्ज, शॉपिंग और ऑनलाइन फूड ऑर्डर करने के लिए कर सकते हैं। इसके साथ इसमें हम अपने कार्ड्स के पॉइंट को एन्कैश भी कर सकते हैं पैसों में जिससे हम मोबाइल रिचार्ज कर सकते हैं। नए पंजीकरण के लिए आप ये रेफरल कोड का इस्तमाल कर सकते हैं “VAU3ZA”। जब आप इसे रेफरल कोड का इस्तमाल करेंगे तब आप भी कुछ सुपरकैश मिलेंगे, जिन्हें आप खरीदारी में इस्तमाल कर सकते हैं।

3. फोन पे (PhonePe)
ये भी Paytm की ही तरह है जहाँ आप बहुत सारे काम जैसे की रिचार्ज करना, बिजली बिल भरना, ऑनलाइन खाना ऑर्डर करना, गेज बुकिंग करना इत्यादि कर सकते हैं। लेकिन इसमें दुसरे सभी वॉलेट की तुलना में सबसे अधिक ऑफ़र और डिस्काउंट मिलते हैं।

4. फ्रीचार्ज (Freecharge)
इसका इस्तमाल हम मुख्य रूप से रिचार्ज, शॉपिंग और ऑनलाइन फूड ऑर्डर करने के लिए कर सकते हैं। इसके साथ इससे बिजली के बिल भरने के लिए भी कर सकते हैं।

5. ऑक्सिजन वॉलेट (Oxygen Wallet)
इसका इस्तमाल हम मुख्य रूप से बिजली बिल और मोबाइल फोन रिचार्ज करने के लिए कर सकते हैं। लेकिन यह इस्तमाल करना बहुत ही आसान और सुरक्षित है।

IMPS क्या है और यह कैसे काम करता है?
 NEFT क्या है और पैसे कैसे भेजे?
SHARE