स्पैम (Spam) का मतलब क्या होता है? (What does Spam mean)

स्पैम (Ⓢⓟⓐⓜ) का मतलब क्या होता है?

तो दोस्तो इंटरनेट की दुनिया में आपने Spam और Spamming के बारे में जरूर सुना होगा लेकिन क्या आप जानते है स्पैम क्या होता है। (what is spam) अगर आप स्पैम शब्द को पहली बार सुन रहे है। या फिर स्पैम शब्द का हिंदी अर्थ ढूंढ रहे है तो इस आर्टिकल के साथ बने रहिये।

स्पैम का मतलब क्या होता है (Spam Meaning In Hindi)

तो दोस्तो इंटरनेट पर होने वाले अप्रासंगिक और अनचाहे/अवैध कामों को स्पैम (spam) या स्पैमिंग (spamming) कहा जाता है। जब कोई व्यक्ति इंटरनेट पर कोई अवैध या इंटरनेट के नियमों के विरुद्ध संदेश भेजता है तब उसे Spam कहा जाता है।

Spam एक अंग्रेजी शब्द है जिसका अर्थ होता है ईमेल के माध्यम से भेजा गया अवांछित संदेश (विशेषकर विज्ञापन) ईमेल के माध्यम से किसी को भेजे गए अवांछित संदेश, especially advertisements

Spam meaning in Hindi = “अवांछित संदेश “

सोशल मीडिया पर फ़ेक अकाउंट बनाकर किसी को परेशान करना , अनचाहे/अवैध लिंक्स को शेयर करना , गलत कमैंट्स करना आदि सब चीजें भी स्पैम कहलाती है। स्पैम सामग्री इंटरनेट पर कही भी हो सकती है इसीलिए इसे रोकने के लिए Anti spam softwares या फिर Tools का उपयोग किया जाता है।

स्पैम क्या होता है? (what is spam)

Spam का अर्थ तो दोस्तो अब आप जान चुके होंगे, अब हम स्पैम के बारे में कुछ अधिक जानने की कोशिश करेंगे जैसे – स्पैम क्या है? स्पैम के कितने प्रकार होते है।

स्पैम शब्द तब से अस्तित्व में जब इंटरनेट का अविष्कार भी नहीं हुआ था। लेकिन यहाँ पर हम इंटरनेट पर होने वाले स्पैम की बात कर रहे है। तो आपको बता दूँ की स्पैम का इस्तेमाल इंटरनेट पर सबसे पहले Email में किया जाता था।

जब इंटरनेट का ठीक से विकास नहीं हुआ था। उस वक़्त Spam Emails से विज्ञापन किये जाते थे इसलिए Email Spamming एक काफी प्रसिद्द टर्म इंटरनेट पर हमे सुनने मिलता है।

अभी के समय में इंटरनेट के क्षेत्र में काफी ज्यादा विकास हो चूका है! अब Email के अलावा भी बहुत ऐसे प्लात्फ़ोर्म्स है। जहा पर Spamming होती है। जैसे फेस्बूक, इंस्टाग्राम, यूट्यूब , टिवीटर जैसे बड़े बड़े सोशल मीडिया प्लेटफार्म जिनको करोड़ों यूसर रोजाना इस्तेमाल करते है। इनमे भी Spam संदेश फैलने खतरा होता है।

हर स्पैमर का स्पैम फैलाने मकसद अलग अलग हो सकता है। जैसे – किसी को परेशान करना , किसी के साथ धोखाधड़ी करना इत्यादि।

इंटरनेट पर स्पैमर्स की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। इसीको ध्यान में रखते हुए बड़ी बड़ी वैबसाइट और इंटरनेट संस्थाएं भी इसे रोकने के लिए हमेशा प्रयास करती है।

यूट्यूब , इंस्टाग्राम , फेसबुक जैसी कई कंपनियां के पास अपने प्लेटफार्म पर स्पैमिंग रोकने के लिए एक स्वतंत्र Spamming कंट्रोल टीम होती है। जो spammers द्वारा भेजे जाने वाले Spam संदेशों पर नजर रखने का काम करते है।

स्पैम के प्रकार (Types of Spam)

आजकल इंटरनेट पर स्पैमिंग सिर्फ ईमेल से नहीं की जाती , इस बदलते युग में स्पैमर्स के लिए स्पैमिंग करने के कई नए नए मार्ग उपलब्ध होते जा रहे है। Spamming के सभी प्रकार एक ही आर्टिकल में बता पाना तो मुश्किल है लेकिन कुछ प्रकारों के बारे में हम जानने का प्रयास करेंगे।

ईमेल स्पैम (email spam)

धोखाधड़ी वाला फेक ईमेल स्पैमर्स द्वारा यूजर के ईमेल एड्रेस पर भेजा जाता है यह कोई विज्ञापन हो सकता है। या फिर कोई ललचालने वाला ऑफर, जब कोई साधारण यूजर ऐसा मेल खोलता है तब स्पैमर्स के जाल में आसानी से फस जाता है। spam email

Spammers के लिए स्पैमिंग करने के लिए ईमेल सबसे प्रभावशाली तरीकों में से एक होता है इसलिए ईमेल पर सबसे ज्यादा स्पैमिंग होती है।

ईमेल पर बढ़ती स्पैमिंग को ध्यान में रखते हुए अब ईमेल में Spam/junk का एक अलग फोल्डर दिया गया है, जब भी कोई स्पैम ईमेल आता है तब वह अपने आप स्पैम में चला जाता है जिससे सामान्य यूजर को स्पैम इमेल्स का सामना नहीं करना पड़ता।

नकली रिव्यु (fake reviews)

नकली समीक्षा को प्रोवाइड करना इसे हिंदी में कपटपूर्ण समीक्षा करना भी कहा जाता है यह एक स्पैमिंग का प्रकार है इसमें कोई इंटरनेट यूजर किसी प्रोडक्ट या सर्विस का गलत और धोखाधड़ी वाला रिव्यु करने का प्रयास करता है।

फेक रिव्यु के बारे में तो आपने जरूर सुना होगा कई बार गूगल प्लेस्टोर पर किसी एप का रिव्यु नकली समीक्षा(reviews) से किसी स्पैमर्स के समूह द्वारा जानबूझ कर गिराया जाता है या बढ़ाया जाता है यह भी spam का एक हिस्सा होता है।

सिर्फ प्ले स्टोर पर ही नहीं बल्कि E-commerce साइट्स , ब्लॉग कमैंट्स आदि पर भी फेक एकाउंट्स बनाकर स्पैमर्स द्वारा नकली समीक्षा दिए जाते है।

अवैध कंटेंट (illegal content)

इंटरनेट पर कई बार ऐसा कंटेंट पब्लिश किया जाता है जो इंटरनेट के नियमों के खिलाफ होता है आपने सोशल मीडिया पर देखा होगा कई बार लोग अवैध कंटेंट साझा करते है जो एक स्पैम कंटेंट की केटेगरी में आता है।

हालाँकि इंटरनेट से स्पैम कंटेंट हटा दिया जाता है लेकिन अगर आपको ऐसा कंटेंट इंटरनेट पर कही देखने को मिलता है।  जो इंटरनेट के रूल्स के खिलाफ है तो उसे तुरंत रिपोर्ट करें।

अवांछित सामग्री (Unwanted Content)

सोशल मीडिया पर , वेबसाइट फ़ोरम्स में या किसी प्रोडक्ट रिव्यु में अवांछित सामग्री को साझा किया जाता है, इस प्रकार में स्पैमर धमकी, अपमान या फिर विज्ञापन जैसी कुछ भी अवांछित सामग्री को साझा कर सकता है।

इस प्रकार का स्पैमिंग ज्यादातर सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर्स या फिर फेमस व्यक्तिओं के पोस्ट में कमैंट्स में हमे देखने को मिलती है, स्पैमर्स अक्सर इन्फ्लुएंसर्स के पोस्ट के कमैंट्स में कुछ आपत्तिजनक संदेश , अफवा , या फिर कोई प्रोडक्ट बेचने का प्रयास करते है।

विद्वेषपूर्ण लिंक्स (malicious links)

विद्वेषपूर्ण लिंक्स (malicious links) यह स्पैमिंग के सबसे खतरनाक प्रकारों में से एक है , इस प्रकार में स्पैमर यूजर का डाटा चुरा सकता है या फिर यूजर के डिवाइस में वायरस डाल सकता है।

विद्वेषपूर्ण लिंक्स को स्पैमर्स किसी वेबसाइट के फोरम में , कमेंट बॉक्स में सोशल मीडिया पर या फिर ईमेल के माध्यम से यूजर को भेज सकता है।

फ़ेक कॉल (fake call)

फेक कॉल से तो आप अवश्य परिचित होंगे यह भी एक स्पैमिंग का प्रकार है , इसमें स्पैमर्स फेक नंबर से यूजर को कॉल करके उसके साथ धोखाधड़ी करता है।

इस प्रकार के स्पैमिंग में स्पैमर्स ज्यादातर अपने हित के लिए फेक कॉल करते है इसलिए ज्यादातर फेक कॉल्स बैंकिंग से संबंधित आते है जिसमे यूजर को क्रेडिट कार्ड डिटेल्स , UPI का ID जैसी डिटेल्स मांगी जाती है या फिर यूजर को धमकाया जाता है।

स्पैम से कैसे बचे? (how to avoid spam)

इंटरनेट के इस ज़माने में स्पैमिंग बहुत बढ़ चुकी है ऐसे में अगर कुछ सावधानियां बर्ती जाएँ तो हम स्पैमिंग से बच सकते है निचे हम स्पैमिंग से बचने के कुछ उपाय बताने जा रहे है जिनको फॉलो करके आप स्पैमिंग से बच सकते है।

  • अपने डिवाइस में किसी अच्छे Anti Spam Software का इस्तेमाल जरूर करें।
  • अपना मुख्य ईमेल आयडी कभी भी आसान नहीं रखना चाहिए , ईमेल आयडी jअगर आसान होता है तो स्पैमिंग की संभावना अधिक रहती है।
  • अगर आपको ईमेल में , SMS में या सोशल मीडिया पर कोई अनजान व्यक्ति कोई लिंक देता है तो उसे बिलकुल भी नहीं खोलना चाहिए इससे आपके सिस्टम में वायरस आ सकता है या फिर आपकी निजी जानकारियां चुराई जा सकती है।
  • अगर आपको कोई अनजान नंबर से कॉल किसी स्पैम कॉल को आप उठा लेते है और आपसे बैंक डिटेल्स जैसी संवेदनशील जानकारी मांगी जाती है तो अपनी डिटेल्स बिलकुल भी साझा मत करे और us नंबर को ब्लॉक कर दें । आता है तो उसे उठाने से पहले उसका स्पैम स्कोर truecaller पर जरूर चेक करे।
  • किसी स्पैम कॉल को आप उठा लेते है और आपसे बैंक डिटेल्स जैसी संवेदनशील जानकारी मांगी जाती है तो अपनी डिटेल्स बिलकुल भी साझा मत करे और us नंबर को ब्लॉक कर दें।
  • अगर आपको स्पैम इमेल्स आते है तो स्पैम इमेल्स को डिलीट करने से पहले उन्हें रिपोर्ट करके ब्लॉक जरूर करें।
  • किसी भी निचले स्टार वाली वेबसाइट या फोरम में अपना ईमेल एड्रेस सिग्नेचर में इस्तेमाल मत करे।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ’s)

स्पैम का मतलब होता है?

स्पैम का अर्थ होता है ईमेल के माध्यम से भेजा गया अवांछित संदेश (विशेषकर विज्ञापन)

रिपोर्ट स्पैम का मतलब क्या होता है?

इंटरनेट एक बहुत बड़ा नेटवर्क है ऐसे में स्पैम सन्देश फैलने की अधिक संभावनाएं होती है खास कर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर स्पैम सन्देश अधिक फैलते है इसलिए अगर कोई व्यक्ति कोई सोशल मीडिया पर स्पैम सन्देश या इंटरनेट के नियमों के विरुद्ध संदेश भेजता है तो सोशल मीडिया पर Report Spam या फिर Spam Report का ऑप्शन उपलब्ध होता है जिससे यूजर इंटरनेट के नियमों के विरुद्ध संदेश की शिकायत कर सकते है जिससे उस अवैध सन्देश को संबधित सोशल मीडिया प्लेटफार्म से हटा दिया जाता है।

इंस्टाग्राम पर स्पैम का मतलब क्या होता है?

अगर कोई इंस्टाग्राम यूजर इंस्टाग्राम पर कोई ऐसी एक्टिविटी करता है तो इंस्टाग्राम के नियमों के खिलाफ है तब उसे इंस्टाग्राम स्पैम कहा जाता है।

स्पैम कॉल का मतलब क्या होता है?

कॉल के माध्यम से अगर कोई अनचाहे या अवैध कामों को अंजाम देता है तब उसे कॉल स्पैम कहा जाता है . कॉल स्पैमिंग ने स्पैमर किसी यूजर को कॉल करके धोखाधड़ी करने की कोशिश करता है और यूजर की निजी जानकारिया चुराने की कोशिश करता है जैसे – क्रेडिट कार्ड की डिटेल्स , बैंक कहते की डिटेल्स आदि।

एंटी स्पैम का मतलब क्या होता है?

 एंटी स्पैम एक स्पैमिंग रोकने का तरीका होता है जिसमे स्पैम संदेशो को डिटेक्ट किया जाता है।

तो दोस्तों यह थी स्पैम (Spam) का मतलब क्या होता है? पूरी जानकारी आपको यह आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताएं। अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं। यह आर्टिकल पढ़ने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद।