टाटा म्‍यूचुअल फंड से घर बैठे करें निवेश,

what is tata masutal fund

पहली बार निवेश कर रहे लोगों के लिए टाटा म्‍यूचुअल फंड ने खास सुविधा शुरू की है. इससे ये निवेशक किसी से संपर्क किए बगैर यानी कॉन्‍टैक्‍टलेस तरीके से फंड हाउस से जुड़ सकेंगे. इसमें अकाउंट खोलने की प्रकिया पेपरलेस होगी. यही नहीं, यह प्रक्रिया निवेशकों को किसी के उनके घर जाकर कागजों की जांच-पड़ताल का इंतजार किए बिना अकाउंट खोलने में समर्थ बनाएगी. म्‍यूचुअल फंड में निवेश शुरू करने के लिए केवाईसी की प्रक्रिया पूरी करनी पड़ती है. इसी प्रक्रिया को अब डिजिटल तरीके यानी ई-केवाईसी से किया जाएगा. जो कोई भी निवेश शुरू करना चाहता है, उसे अपने केवाईसी विवरणों के स्‍कैन कराने की जरूरत होगी. इनमें पहचान का प्रमाण यानी पैन कार्ड, पते का प्रूफ, फोटोग्राफ, एक कैंसिल किया हुआ चेक और सिग्‍नेचर शामिल हैं. इन दस्‍तावेजों को एएमसी की वेबसाइट पर अपलोड करना होगा.

एक बार सभी दस्तावेज अपलोड हो जाने के बाद निवेशक को अपने स्मार्टफोन या कंप्यूटर पर फ्रंट कैमरे का उपयोग करके रियल टाइम वीडियो रिकॉर्डिंग शुरू करने की आवश्यकता होगी. उन्‍हें स्क्रीन पर दिखने वाले डायनामिक ओटीपी को जोर से पढ़ना होगा. इस प्रक्रिया के सफल होने पर एएमसी के कर्मचारी उनका सत्यापन करेंगे. इसके बाद निवेश शुरू करने के लिए उन्‍हें सूचना भेजी जाएगी.

टाटा एसेट मैनेजमेंट में हेड (मार्केटिंग एंड डिजिटल) एमवीएस मूर्ति ने कहा, “हमारी इस कॉन्‍टैक्‍टलेस-ऑन-बोर्डिंग सुविधा से पहली बार निवेश कर रहे लोगों को सुविधा होगी. डॉक्‍यूमेंट कलेक्‍शन के लिए उन्‍हें किसी से आमने-सामने नहीं मिलना होगा. वे घर बैठे अपने निवेश के सफर की शुरुआत कर सकेंगे. इससे सभी चैनल पार्टनर्स और एक्विजिशन चैनलों को कागजी कार्रवाई और इससे संबंधित दौड़भाग के काम को कम करने में मदद मिलेगी. ई-केवाईसी निवेशकों को साथ जोड़ने के लिए सबसे आसान तरीका है.” इस सुविधा में पेपर आधारित केवाईसी डॉक्‍यूमेंटेशन की जरूरत नहीं होगी. टाटा म्‍यूचुअल फंड ने अपनी वेबसाइट पर इस फीचर को इनेबल कर दिया है.

SHARE