लेखक (Writer) कैसे बने ? कैरियर के लिए किस प्रकार उपयोगी है|

how-to-become-a-writer-how-is-it-useful-for-career

इन्टरनेट का निरंतर बढ़ता हुआ प्रयोग लेखको के लिये नये अवसरों का निर्माण कर रहा है , ऐसे में अच्छे लेखको की आवस्यकता बढ़ती जा रही है , ब्लॉगिंग , YouTube कंटेंट क्रिएशन और फिल्मो अथवा वेब सीरीज के लिए अच्छे लेखको Writer की तलाश जारी रहती है| लेख़क बनके बहुत ही आसानी के साथ रुपया और नाम कमाया जा सकता है |

दोस्तों लेखक कैसे बने इस बात को लेकर मन में एक उलझन सी हो जाती है | अक्सर आप ने देखा होगा की जब कोई कवि या लेखक Writer अपने लेख या कविता poetry को सुनाता है तो एक अजीब सा आनंद आता है | उस समय आपके मन में भी सवाल उठने लगता है कि मैं भी एक कवि या लेखक बन जाऊं |

लेखक क्या है?

लेखक उसे कहते है जो अपने आईडिया से, बातों से, शैलियों और तकनीक का प्रयोग कर लेख लिखता है | लेखक के लिए एक- एक शब्द बहुत महत्वपूर्ण होतें है | लेखक ऐसा होता है की अपने कला से कहानी, कविता, उपन्यास, नाटक, संपादकीय, रिपोर्ट का निर्माण करता है जिसको सुनकर पाठक संतुष्ट होतें है |

लेखक अपने आप में एक पर्वत के सामान होता है वों काल्पनिक या वास्तविक दोनों प्रकार के लेख लिख सकता है | लेखक बनने के लिए कठिन परिश्रम करना होता है|

लेखक Writer कैसे बने?

भाषा पर कमान

Writer बनने के लिए आपको उस भाषा का ज्ञान होना चाहिए जिस भाषा में आप लिखना चाहते हैं| अगर आप चाहते हैं की आप एक English Writer बनें तो आपको अंग्रेजी भाषा के बुनियादी सिद्धांतों का ज्ञान होना अति आवश्यक है जैसे की आपको भाषा के व्याकरण और शब्दावली का सही ज्ञान होना चाहिए|

लेखक बनने के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है भाषा और साहित्य का ज्ञान है। अगर आपकी भाषा ही सही नहीं होगी तो आपके लेखों को पढ़ेगा कौन इसलिए आपको भाषा की सही समझ होना जरुरी है एक लेखक बनने के लिए|

पढ़ें और खूब पढ़ें

लेखक बनने से पहले आपको एक अच्छा पाठक बनना होगा| जितने भी अच्छे लेखक है वह सभी एक अच्छे पाठक भी हैं।एक Writer बनने का गुरु मंत्र है की आप जितना हो सके उतना पढ़ें| जितना अधिक आप पढ़ते हैं, और विशेष रूप से आप जितनी अधिक पुस्तकें पढ़ते हैं, उतनी ही आप उच्च गुणवत्ता वाले लेखन के संपर्क में आते रहते हैं। जिससे  की आपके लिखने की गुणवत्ता भी समय के साथ बढ़ती रहती है|

आप किताबें पढ़ने से समझ पाएंगे की किसी कहानी को कैसे बताया जाता है जिससे लोगो के अंदर कहानी को आगे पढ़ने की जिज्ञासा बनी रहे| जितना अधिक आप पढ़ेंगे, आपकी आवाज उतनी ही विशिष्ट होगी।

कल्पना शक्ति विकसित करें

एक लेखक को “लेखक” उसकी कल्पना शक्ति बनाती है जोकि बिलकुल भी आसान काम नहीं है। लिखते समय आप कई बार ऐसी जगह आजायेंगे जहाँ आपको नहीं पता होगा कि आगे क्या लिखना है। लेखक इसे Grey Area कहते हैं। यह वह जगह है जहाँ आपकी कल्पना आपको सबसे अधिक मदद करेगी।

कल्पना शक्ति विकसित करने का केवल एक ही तरीका है आप जितना हो सके उतना पढ़े| पढ़ने से आपको बहुत सारे विचार मिलते हैं। और जितने अधिक विचार आपके पास होंगे, उन्हें कागज पर उतारना उतना ही आसान हो जाएगा।

अपनी पसंदीदा किताबें, या अपने पसंदीदा उपन्यास में पात्रों को समझने की कोशिश करें| Story कैसे plot की गयी है जानें| ऐसे वाक्य और शब्द खोजें जो आपको लगते है कि बहुत अच्छे है, और उन वाक्यों को समझने की कोशिश करें की लेखक ने उन वाक्यांश को ही क्यों चुना? इससे आप लेखक की सोच को समझ सकते हैं|

रोज लिखें

एक अच्छा Writer बनने के लिए आपको हर दिन लिखना होगा। यह नहीं की आज आप लिख रहे हैं और कल नहीं या आज आपने लिख लिया अब जब मन आएगा तब लिखूंगा हो सके तो 1 महीने बाद लिखूंगा| ऐसा नहीं चलेगा आपको हर दिन कुछ न कुछ लिखना होगा|

इस नियम का पालन करने का एक शानदार तरीका है की आप शब्दों की संख्या निश्चित करलें उदहारण के लिए आपने निश्चित किया की में रोज 300 शब्द लिखूंगा| अब आपको दृढ़ निश्चय लेना है की मुझे हर रोज 300 शब्द लिखने है चाहे आंधी आये या तूफान|

निरंतरता (Continuity) एक सफल लेखक बनने की कुंजी है|

यदि आप हर दिन लिखते हैं, तो आप नोटिस करना शुरू कर देंगे की यह प्रक्रिया आपके लिए आसान बन गयी है और सबसे महत्वपूर्ण बात, आप इसका अधिक आनंद लेना शुरू कर देंगे। आपकी लिखने की दिलचस्पी धीरे-धीरे बढ़ती रहेगी और आपके विचार स्पष्ट होते चले जायेंगे। जिससे की आपके लेख अच्छे होते चले जायेंगे|

क्या आपने कभी सोचा है कि कुछ लेखक दूसरों की तुलना में अधिक सफल क्यों होते हैं?

ऐसा इसलिए होता है की अच्छे लेखक की सोचने की क्षमता कहीं ज्यादा होती है और वह अपनी बातों को बड़ेही दिलचस्प अंदाज में रखते हैं जिससे पड़ने वाले की जिज्ञासा जाग उठे| और ऐसा आप तभी कर सकते हैं जब आप लिखने की कला में माहिर हो| जोकि आपके अंदर निरंतर अभ्यास करने से आती है|

आपने यह कहावत तो सुनी ही होगी के “अभ्यास मनुष्य को परिपूर्ण बनाता है” 

(गुरु) खोजें

जो कला हम सीखना चाहते हैं अगर वह कला हम किसी ऐसे व्यक्ति से सीखे जो उस कला में माहिर हो तो सम्भावना है की आप वह कला जल्दी सिख जायेंगे|

इस प्रकार यदि आप एक Writer बनना चाहते हैं तो आपको उन Writer से सीखना चाहिए जो इस क्षेत्र में बुलंदियों पर है और वह इस कला में माहिर हो| इसलिए यह महत्वपूर्ण हो जाता है कि हम उनसे सीखें जो इस इस क्षेत्र में माहिर हो, अपने लिए एक गुरु की तलाश करें और उनको फॉलो करें। यह हमें तेजी से इस क्षेत्र में तरक्की करने में मदद करेगा।

अधिकांश प्रसिद्ध लेखकों ने अपने लेखन करियर के शुरुआती दौर में किसी न किसी गुरु को जरूर फॉलो किया है

♦ भारत के प्रसिद्ध लेखक
    • Khushwant Singh
    • Arundhati Roy
    • Chetan Bhagat
    • Vikram Seth
    • Salman Rushdie
    • Anita Desai

भारत मूल के इन Writers को आप फॉलो कर सकते हैं और आप उनसे बहुत कुछ सिख सकते हैं| उनकी किताबें पढ़ें, उनके लेख पढ़ें, उनके विचार जानें, उनकी यात्रा को जानें

किताबें लेखक को पढ़नी चाहिए

Literature / साहित्य: Literature कल्पना और वास्तविकता का मेल है। यह हमें अपनी वास्तविकता को कल्पना के दायरे में विस्तारित करने की गुंजाइश देता है। आपको क्लासिक साहित्य जरूर पढ़ना चाहिए क्योंकि यह आपको गहराई से सोचने और ध्यान केंद्रित करने के लिए मजबूर करता है। यह पाठक को बहुत रचनात्मक बनाता है और कल्पना करने की शक्ति देता है। एक अच्छा लेखक बनने के लिए आपको Literature के साथ-साथ इन विषयों पर भी किताबें जरूर पढ़नी चाहिए: मनोविज्ञान, इतिहास, समाजशास्त्र, और शरीर क्रिया विज्ञान यह लेखन में आपकी बहुत मदद करेंगी, विशेषकर करके अगर आप एक उपन्यास लिखना चाहते हैं

Psychology/ मनोविज्ञान: मनोविज्ञान मानव व्यवहार का अध्ययन है। यदि आप एक काल्पनिक (fiction) कहानी लिखना चाहते हैं, तो मानव मनोविज्ञान को जरूर समझना चाहिए क्योंकि यह आपको लोगों की प्रतिकिर्याओं (reactions) को स्थितियों के हिसाब से जानने में सहयता करेगा|

History/ इतिहास: यदि आप ऐतिहासिक कथा या युद्धों से संबंधित कुछ लिखना चाहते हैं तो आपको विशेष रूप से इतिहास का अध्ययन करना चाहिए। इतिहास से आपको यह जानने में मदद मिलेगी कि घटनाओं की श्रृंखला कैसे बनती है और समाज पर उनका क्या प्रभाव पड़ता है।

Sociology/ समाजशास्त्र: समाजशास्त्र आपको यह समझने में मदद करता है कि समाज और संस्कृति लोगों को कैसे आकार देती हैं। जिससे की आपको अपनी कहानी में विश्व निर्माण करना आसान हो जायेगा।

Physiology /शरीर क्रिया विज्ञान: यदि आप किसी ऐसे पात्र को गढ़ना चाहते हैं जो बीमारि या किसी चोट से झूझ रहा है तो आपको Physiology का ज्ञान होना जरुरी है| यह कहानी में फाइट सीन लिखने के लिए काफी सहायक हो सकता है|

Writer कौन बन सकता है?

एक अच्छा लेखक अपनी कहानी दिल से कहता है वह दिल से एक कहानीकार (Storyteller) होता है| अगर आपको भी लगता है की आप लोगों को एक अच्छी कहानी सुना सकते हैं तो आप जरूर एक लेखक बन सकते हैं|

यदि आप कोई कहानी दिल से नहीं सुना सकते हैं, तो अगर आप अपनी इच्छानुसार कहानी लिखेंगे भी तो लोग आपकी कहानियां नहीं पढ़ेंगे उन्हें आपके कहे गए शब्दों में कोई दिलचस्पी नहीं होगी|

इसलिए कहानी सुनाने के लिए आपके पास प्रतिभा होनी चाहिए| अगर आपके पास भी यह प्रतिभा है तो आप अच्छी कहानी लिख सकते हैं और एक अच्छे Writer बन सकते हैं|

    • लेखन में समय लगता है आपके अंदर धैर्य होना चाहिए
    • जब आप पहली बार प्रयास करते हैं, तो यह कोई जरुरी नहीं है की आपकी कहानी एकदम कमाल की हो|
    • लिखना थका देने वाला कार्य हो सकता है
    • यदि आप वास्तव में अच्छे लेखक बनना चाहते हैं, तो आपको हर दिन लिखना होगा
    • लेखन एक कला है आप जब तक इस में सफलता प्राप्त नहीं कर सकते जब तक आपको इससे प्यार न हो|
    • एक लेखक को हमेशा रचनात्मक होने की आवश्यकता है
अच्छे लेखक के गुण

एक अच्छा लेखक अपने लेख के जरिये आपको अपने पात्रों के लिए सोचने, रोने, हंसने और उनको महसूस करने पर मजबूर कर देता है।

    • एक अच्छा लेखक पढ़ने पर बहुत ध्यान देता है
    • नयी-नयी शब्दावली (vocabulary) सीखना
    • हमेशा एक पेन और पेपर रखना, क्या पता कब कोनसा idea आजाये
    • अधिक सुनना और कम बात करना
    • अपने आस पास की चीजों और लोगों को Observe करना
    • सबसे महत्वपूर्ण लगातार लिखते रहना
    • अपने लेखन पर लोगों की प्रतिक्रिया लेना
पुस्तक लेखक कितना कमाता है?

ज्यादातर लेखकों को Royalty 7.5% – 10% ही मिलती है। मतलब की अगर आपकी किताब का price 100 रुपये है तो आपको Royalty 7.5 रुपये मिलेगी। जोकि काफी कम है आपकी मेहनत के अनुसार|

अगर संछिप्त में कहा जाये तो किताब लिखना आपको अमीर नहीं बना सकता| अगर आप इस कारण से इस क्षेत्र में आ रहे हैं तो कृपया आप इस क्षेत्र में ना आएं|

आपको शुरआत के समय में काफी struggle करना पड़ेगा अगर आप सोचते हैं की केवल किताबें लिखने से आपका घर चल जायेगा तो आप इस बहलावे में न रहें| मेरा कहने का मतलब यह नहीं की आप लेखक न बने| मैं बस इतना कहना चाहता हूँ की आप केवल किताब लिखने के भरोसे न बैठे रहें|

आप किताबें लिखने के साथ-साथ अन्य काम भी कर सकते हैं जैसे की आप टीवी, फिल्मों, पत्रिकाओं, समाचार पत्रों, News Channels के लिए भी लिख सकते हैं| इन जगहों पर काम करने वाले Writers को आम तोर पर पेशेवर लेखक Professional Writer भी कहा जाता है|