जया किशोरी जी का जीवन परिचय। (Biography Of Jaya Kishori Ji)

Top 9 Bhajans by Jaya Kumari Ji

जया किशोरी, जिन्हें जया शर्मा के नाम से भी जाना जाता है, 9 साल की उम्र से ही आध्यात्मिकता से जुड़ी हुई हैं। वह सेमिनार और वेबिनार के माध्यम से जीवन प्रबंधन युक्तियाँ और प्रेरक भाषण साझा करने के लिए जानी जाती हैं। सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में फॉलोअर्स के साथ, करोड़ों की संख्या में उनके प्रशंसक उनकी कहानियों और प्रेरक विचारों को उत्सुकता से सुनते हैं।

13 जुलाई 1995 को राजस्थान के सुजानगढ़ में एक गौड़ ब्राह्मण परिवार में जन्मी जया किशोरी का आध्यात्मिकता से गहरा नाता है और उन्हें भजन गाने का शौक है। उनके पिता शिव शंकर शर्मा हैं, और उनकी माँ सोनिया शर्मा हैं। जया किशोरी की लोकप्रियता कम उम्र में ही बढ़ गई, खासकर “टूटी गाड़ी” जैसे भजनों और भागवत गीता, नानी बाई रो मायरो और रामायण पर आधारित कार्यक्रमों के लिए।

जया किशोरी की जीवनी उनकी भक्ति और सफलता को दर्शाती है। वह न सिर्फ कथावाचक और भजन गायिका हैं बल्कि सामाजिक कार्यों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेती हैं। वह अपने आयोजनों से प्राप्त आय नारायण सेवा ट्रस्ट को दान करती हैं, जो उदयपुर की एक संस्था है जो शारीरिक रूप से अक्षम बच्चों के इलाज पर ध्यान केंद्रित करती है।

कोलकाता में महादेवी बिड़ला वर्ल्ड एकेडमी की पूर्व छात्रा जया किशोरी ने 9 साल की उम्र में संस्कृत में स्तोत्र गाकर दर्शकों को प्रभावित करना शुरू कर दिया था। 10 साल की उम्र में जब उन्होंने संपूर्ण सुंदरकांड गाया तो उनकी प्रसिद्धि और बढ़ गई।

अपने निजी जीवन में, जया किशोरी आध्यात्मिकता के प्रति गहरी रुचि रखने वाली एक उत्साही और शरारती बच्ची होने को याद करती हैं। कहानियों और भजनों के प्रति उनके प्रेम ने उन्हें 9 साल की उम्र में उन्हें साझा करना शुरू कर दिया, जिससे दुनिया भर के दर्शक मंत्रमुग्ध हो गए।

जया किशोरी को विभिन्न सम्मान और पुरस्कार प्राप्त हुए हैं, जिसमें फेम इंडिया एशिया पोस्ट सर्वे 2019 में यूथ आइकन के रूप में मान्यता प्राप्त होना भी शामिल है। वह सामाजिक कार्यों में भी शामिल हैं और लोगों को दूसरों की राय के बारे में अत्यधिक चिंता किए बिना अपना जीवन जीने के लिए प्रोत्साहित करती हैं।

अपनी संगीत गतिविधियों के अलावा, जया किशोरी साहस और दृढ़ संकल्प के महत्व जैसे प्रेरक विचार भी देती हैं। उनके भजन दर्शकों को बहुत पसंद आते हैं, जिससे वह आध्यात्मिक प्रेरणा चाहने वालों के बीच एक प्रिय व्यक्ति बन जाती हैं।

जया किशोरी जी के जीवन पर विचार

जया किशोरी जी साधारण जीवन शैली पसंद करती हैं और उनका मानना है कि मोबाइल और लैपटॉप के अत्यधिक उपयोग के साथ बच्चों के जीवन पर प्रौद्योगिकी के प्रभाव के कारण मूल्यों में गिरावट आ रही है। वह देखती हैं कि आज के युवा अक्सर बड़ों, माता-पिता, संतों और सामाजिक मानदंडों का अनादर करते हैं, जो मूल्यों की हानि का संकेत है।

जया किशोरी जी अपने सरल और मधुर भाषणों के साथ-साथ अपने अनुभवों का उपयोग करके इन चिंताओं को समाज तक पहुंचाना चाहती हैं। अपनी उम्र की लड़कियों की सामान्य रुचियों के बावजूद, वह भगवान की भक्ति के प्रति समर्पित हैं, इस बात पर जोर देती हैं कि ऐसी भक्ति ही जीवन का सही मार्ग है।

जया किशोरी जी भगवान खाटूश्यामजी में गहरी आस्था रखती हैं और वह हर साल अपने परिवार के साथ राजस्थान स्थित उनके मंदिर में जाती हैं। इन यात्राओं के दौरान वे पंचायती धर्मशाला में रुकते हैं, जिससे माहौल भक्तिमय हो जाता है। भगवान श्री कृष्ण को समर्पित परिवार में जया किशोरी जी का पालन-पोषण होने के कारण उन्हें बचपन में उनके लिए शास्त्रीय नृत्य करना पड़ा। आज वह विश्व स्तर पर एक कथावाचक और भजन गायिका के रूप में पहचानी जाती हैं।

जया किशोरी का असली नाम क्या है?

जया किशोरी ने बताया था, ‘मेरा असली नाम ‘जया शर्मा‘ है जो मेरी दादी ने रखा था. ‘ जया किशोरी के गुरू ने उन्हें ‘किशोरी’ उपाधि दी थी इसलिए उनका नाम जया शर्मा से जया किशोरी हुआ. दरअसल, पंडित गोविंदराम जी मिश्र ने जया शर्मा की भगवान श्रीकृष्ण के प्रति श्रद्धा और प्रेम देखकर उन्हें ‘किशोरी’ की उपाधि दी थी.

जया किशोरी कितनी अमीर हैं?

जया किशोरी की कुल संपत्ति 2 मिलियन डॉलर है। उनकी आय का स्रोत कथा और प्रायोजन से आता है। वह अपने सोशल मीडिया से भी खूब पैसे कमाती हैं.

जया किशोरी की सगी बहन का क्या नाम है?

जया किशोरी की छोटी बहन का नाम चेतना शर्मा (Chetna Sharma) है. वह भी बड़ी बहन की तरह गाने का शौक रखती हैं. चेतना को भजन गाना काफी पसंद है. वह कई एल्बम में अपनी आवाज भी दे चुकी हैं.

जया किशोरी जी की फीस कितनी है?

उनके कार्यालय में काम करने वाले एक कर्मचारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, जया किशोरी कथा प्रवचन के लिए 9.5 लाख रुपये की फीस निर्धारित करती हैं। उन्हें 4.25 लाख रुपये के अग्रिम भुगतान की आवश्यकता है, शेष राशि कथा प्रवचन कार्यक्रम के बाद एकत्र की जाएगी।

जया कुमारी जी हिंदी मेंजया कुमारी जी के सर्वश्रेष्ठ 9 भजन हिंदी में

1. अवध में राम आये हैं (Avadh Me Ram Aaye Hai )

2. मीठे रस से भरीयोरे राधा रानी लागे (Mithe Ras Se Bharyo Radha Rani Lage)

3. उत्सव रच्यो है म्हारे आँगने (Utsav Rachyo Hai Mhaare Aangane)

4. जिसनेराग-द्वेषकामादिकभजन

5. हनुमान जब चले

6. बजरँगबाण

7. प्यार करते करते

8. हम तुम्हारे है प्रभुजी

9. थारे झांझ नगाड़ा

जीवन एक चुनौती है, लेकिन हमारे पास इसे सरल बनाने की शक्ति है। कुछ लोग इसे स्टाइल के साथ करते हैं, तो कुछ लोग लापरवाह रवैये के साथ। हालाँकि हम हर किसी को खुश नहीं कर सकते, लेकिन हम यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि हमारे कार्यों से दूसरों को नुकसान न हो।

यहीं पर जया किशोरी जी का जीवन परिचय समाप्त होता है। इस लेख पर टिप्पणी करके हमें अपने विचार बताएं। यदि आपने इसका आनंद लिया, तो बेझिझक इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें। इस अंश को पढ़ने के लिए समय निकालने के लिए आप सभी को धन्यवाद।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
Top 9 Bhajans sung by Jaya Kishori Ji
Top 9 Bhajans sung by Jaya Kishori Ji