वेबसाइट क्या है और इसके प्रकार क्या है?

what is website & website kiy hai

बहुत सारे वेबपेजों के संग्रह को वेबसाइट कहते हैं। यह भी कहा जा सकता है कि एक वेबसाइट या साइट एक एसा स्थान हैं जाहाँ बहुत सारे वेबपृष्ठों को रखा जाता है। हर वेबपेज में कुछ ना कुछ जानकारी होती है। जैसे अभी तक आप एक वेबसाइट के एक पेज पे हैं जिस पेज पे “वेबसाइट क्या है” इसकी जानकारी है। और यह वेबपेज हमारी वेबसाइट जिसका नाम हिंदीग्यानशाला (https://HindiGyanShala.com) का ही एक हिस्सा है। जब हमारे पेज के दुसरे पोस्ट के उपर आप क्लिक करेंगे तो एक नया पेज ओपनगा वो भी एक वेबपेज ही है।

वेबसाइट को खोलने के लिए हम एक आवेदन या सॉफ्टवेयर का इस्तमाल करते हैं। Whco हम कहते हैं कि वेब ब्राउज़र हैं। पूर्व- Google क्रोम, ऑपरामिनी, यूसी ब्राउज़र। अगर अभी बी आपको समझ में नहीं आया तो मेरा ये पूर्व को पढ़ें-आप सब ओर दूर कर देंगे, जैसे की मैंने कहा https://HindiGyanShala.com यह वेबसाइट है और इस साइट के होम पेज पे जब आप बहुत सारे पोस्ट करेंगे देखने को मिलेंगे जो कुछ ओर नहीं वे अलग अलग वेबपेज के पते / लिंक हैं। एसे हमारी साइट पे करीबन 300-400 वसीयत करता है। हर पृष्ठ में कुछ जानकारी होती है। “बहुत सारे वेबपेजों के संग्रह को वेबसाइट कहते हैं”।

स्टेटिक वेब पेज क्या है?(Static Web Page)

स्टेटिक वेब पेज इसका नाम से ही आप समझ गए होंगे की ये एसा पेज है। जहाँ भी कभी भी नहीं बदल रहा है, पृष्ठ निश्चित बने हुए हैं। जिनको कोई भी नहीं बदल सकता है। ये स्थिर वेब पेज हर नए और पुराने उपयोगकर्ता के लिए एक जैसे ही होते हैं। आप जब भी वेबसाइट खोलते हैं तो देखा जाएगा जिन पृष्ठों की सामग्री कभी नहीं बदल रही है। वे पृष्ठ हर किसी के लिए एक जैसे दिखाई देते हैं। लेकिन कुछ साइट है, जैसे Facebook.com जिनके पेज के कंटेंट हर वक्त बदलते रहते हैं और अलग यूजर के लिए अलग वेबपेज होते हैं।

यहाँ कुछ स्थिर वेब पेज के कुछ उदहारण है। EX- हमारे बारे में पृष्ठ और हमसे संपर्क करें पृष्ठ Genake सामग्री कभी बी नहीं बदल रहे हैं।

गतिशील वेब पेज क्या है?(Dynamic Web Page)

डायनामिक वेब पेज कंटेंट हमेसा बदलते रहते हैं। यहाँ पे हर उपयोगकर्ता का मतलब आपके लिए जो पेज खुला हागा वो मेरे लिए कुछ और होगा। जैसे fb में जब में लॉगिन करता हू तो मेरा पेज आपके fb पेज से काफी अलग होगा।

डायनामिक का मतलब है, जो पेज बार बार बदलता रहता है। इसी तरह और एक उदाहरण लीजिये खरीदारी साइटों के हर वेब पेज भी हर उपयोगकर्ता के लिए बदलते रहते हैं। क्यूंकि आप कुछ खोज करते हैं, लेकिन कुछ और पृष्ठ खरीदारी करने के लिए पेज खुले में कर सकते हैं। ये दोनों गतिशील वेबपेज के उदाहाण है। क्या आप अपनी वेबसाइट अपनी पसंद की डिजाइन की बनाना चाहते हो तो आपको php सिखाना होगा।

होम पेज क्या है?(Home Page)

वेबसाइट के पहले पेज को होमपेज कहते हैं। या जब कोई वेबसाइट को भेंट करते हैं तो जो पेज खुलता है उसे ही होम पेज कहते हैं। ex: https://HindiGyanShala.com इसमें क्लिक करने के बाद जो पेज खुलेगा उसे इस साइट का होम पेज कहता है। वेबसाइट के रूट डायरेक्टरी में ये पेज रहता है। इस पेज में ये सभी फाइलें भी हैं। index.html, index.htm, index.shtml, index.php, default.com और home.html

खोज इंजन क्या है?(Search Engine)

खोज इंजन Search Engine एक प्रोग्राम है। या ये बोल हो सकते हैं ये एक एसा वेब प्रोग्राम है जो इंटरनेट के असीमित डेटाबेस में से उपयोगकर्ता जो जानकारी या प्रश्न को इंटरनेट में खोज करता है। उसके संभंधी जो सूचना खोज इंजन (Google, Yahoo, Bing) को मिलती है, उसको खोज परिणाम पृष्ठ में दिखता है। जैसे Google करता है। हर प्रश्न (प्रश्न) को world wide web में खोज किया जाता है।

डोमेन क्या है?(Domain)

इसके जरिये ही लोग वेबसाइट तक लोग पहुंच पाते हैं, यह वेबसाइट की पहचान है। पत्र और संख्या से केवल वेबसाइट का नाम लिखा जा सकता है। डोमेन नाम का इस्तमाल एक या एक से अधिक आईपी पते की की पहचान करने के लिए किया जाता है। जैसे Microsoft.com यह एक डोमेन का नाम है सायद आप सभी इसे वाकिफ करेंगे। एक निर्दिष्ट वेबपेज की पहचान करने केcom लिए डोमेन नाम को URL में लिखा जाता है।

https://HindiGyanShala.com/about इस URL में यदि आप ध्यान से देखते हैं तो .com दिखेगा यही डोमेन नाम का नाम है।

    • .Gov – Government agencies
    • .Edu – Educational institutions
    • .Org – Organizations (nonprofit)
    • .Mil – Military
    • .Com – commercial business
    • .Net – Network organizations
    • .In – India
    • .Ca – Canada
    • .Th – Thailand

वेबसाइट के प्रकार क्या है?(Types of website)

हर रोज आप कुछ ना कुछ जानकारी हासिल करने के लिए इंटरनेट का इस्तमाल करते हैं और कई तरह तरह के ब्लॉग या वेबसाइट को ओपन करते हैं। जिनमे कुछ सर्च इंजन होते हैं, सूचना साइट, सोशल साइट, फोरम और कई प्रकार की वेबसाइट होती हैं।

  खोज इंजन और पोर्टल (Search Engine and Portals)

यह वह साइट हैं जिनको आप सायद इस लेख को खोज करने के लिए किया जाएगा। यह वह साइट जिनको हर रोज़ लगभग एक अरब से बहुत अधिक लोग इस्तमाल करते हैं। जिनका कुछ नाम EX- Google, Yahoo, Bing हैं। सायद आप भी इनको हर रोज कुछ ना कुछ खोज करने के लिए करते ही होंगे। Google भी एक खोज इंजन साइट है। किसी को भी दुनिया की किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए तो आपको इन साइटों पे जानकारी जरुर मिल भेंटगी।

Google के पास दुसरे वेबसाइटों की जानकारी पहले से ही रहती है, इसी कारण से आप कुछ भी Google में सर्च करते हैं तो आपको सठिक परिणाम वाली साइट्स की लिस्ट मिल जाती हैं। कुछ लोग अपने ब्राउज़र में Google को डिफ़ॉल्ट खोज इंजन रखते हैं। जैसे chorome Browser में Google Search Engine होता है। या फिर आप सेटिंग में जाके भी डिफ़ॉल्ट सर्च वेबसाइट सेट कर सकते हैं।

  सूचनात्मक वेबसाइटें (Informational websites)

यह कुछ इस प्रकार की वेबसाइटें हैं, जिनका एक ही उद्देश्य रहता है लोगों को जानकारी देना। सायद इन के लिए वे कुछ पैसे ले भी सकते हैं या मुफ्त में भी दे सकते हैं। ये साइटें आपको किसी भी कंपनी या उद्योगों की जानकारी दी जाती हैं। इन वेबसाइटों में इन श्रेणी की जानकारी होती है।

 व्यक्तिगत वेबसाइट / ब्लॉग (Personal Websites / Blogs)

21 वीं शताब्दी में वेबसाइट बनाना कोई रॉकेट साइंस नहीं है। लेकिन कुछ लोगों के लिए यह बहुत बड़ी बात है। क्यूंकि जिनको कंप्यूटर और इंटरनेट का ज्ञान बिलकुल नहीं है। विदोसो में व्यक्तिगत ब्लॉग बनाना जैसे फैशन हो गया है। व्यक्तिगत वेबसाइट और ब्लॉग आज के इस इंटरनेट के दौर में बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं। ये ब्लॉग किस तरह की जानकारी में रहेंगे, ये सभी ब्लॉगर पे निर्भर करते हैं। जैसे आप कौन सी वेबसाइट / ब्लॉग पे हैं, इस श्रेणी में आता है आपकी और हमारी साइट HindiGyanShala.com

 सामाजिक नेटवर्किंग (Social Networking)

इस श्रेणी में आने वाली वेबसाइटों के नाम का बच्चा बच्चा है। Twitter, Facebook, Goohle+, Instagram, Pinterest, लिंक्डइन ये सभी एक एक सोशल साइट हैं। दुनिया में जितने भी इंटरनेट उपयोगकर्ता सबसे पहले वो लोग सर्च इंजन पे जाते हैं, उसके बाद सोशल साइट। हर रोज एक व्यक्ति 2 घंटे से अधिक समय सोशल साइट पे बिताता है। 100 करोड़ लोग इन सोशल साइट्स पे दिन भर सक्रिय रहते हैं। दिन प्रतिदिन इन साइटों की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। दुनिया की सबसे लोक प्रिय सोशल साइट Facebook हैं।

लाइब्रेरी को एक वेब सर्वर के साथ तुलना करते हैं:

एक पुस्तकालय एक वेब सर्वर के जैसा होता है। बहुत से वर्गों में होते हैं, जो की समान होते हैं एक वेब सर्वर के समान हैं, जिसमें कई वेबसाइटों को होस्ट किया जाता है।
•  पुस्तकालय की अलग-अलग वर्गों में होते हैं जैसे की विज्ञान, गणित, इतिहास, इत्यादि। ये अनुभाग वेबसाइट के समान होते हैं। प्रत्येक अनुभाग एक अद्वितीय वेबसाइट के तरह होते हैं (जैसे दो वर्गों में समान किताबें नहीं होती हैं)।
•  धारा में मेह्जुद किताबें वेबपेजों की तरह होते हैं। एक वेबसाइट के बहुत सारे वेबपृष्ठ शामिल हैं, जैसे की विज्ञान खंड (जो की एक वेबसाइट है) इसमें पुस्तकों का अलग अलग विषय के हो सकते हैं जैसे गर्मी, ध्वनि, ऊष्मागतिकी, स्टैटिक्स, इत्यादि। (इन्हें आप वेबपेज कह सकते हैं)।
•  यहाँ खोज सूचकांक एक खोज इंजन के समान होता है। प्रत्येक पुस्तक की एक अनोखी स्थिति होती है पुस्तकालय में (जैसे दो पुस्तकें को एक स्थान या एक स्थान में नहीं रह सकते हैं) और जिन्हें एक सूची संख्या से निर्दिष्ट किया जाता है।
•  वहीँ वेबपृष्ठों के भी विशिष्ट पते हैं। इन विशिष्ट पते का इस्तमाल होता है एक वेबपेज को पुनः प्राप्त करने के लिए एक वेब सर्वर से। इसके लिए सेट एड्रेस को वेब ब्राउज़र के एड्रेस बार में टाइप करना होता है।

   ♦  वेब पुश अधिसूचना क्या है?

SHARE