माउस क्या है – What is Mouse in Hindi

What is Mouse in Hindi

माउस क्या है – What is Mouse in Hindi

नमस्कार, मैं आपके अपने वेब पोर्टल HindiGyanShala पर आपका स्वागत करता हूँ। हमारे इस पोर्टल पर Technology ओर Education से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी आपको दी जाती है। आपको हमारी वेबसाइट पर कंप्यूटर से जुड़ी हर प्रकार की जानकारी मिल जाएगी, कंप्यूटर से संबंधित सभी पोस्ट आपके सामने पेज पर मौजूद है। तो चलिए आज के विषय के बारे में बात कर लेते है। माउस क्या है? – What is Mouse in Hindi


Mouse क्या है और कितने प्रकार के होते है?

माउस एक इनपुट डिवाइस है. यह एक pointing device है जिसका इस्तमाल PC के साथ interact करने के लिए किया जाता है. माउस का इस्तमाल मुख्य रूप से कम्प्युटर स्क्रीन पर different Items को चुनने, उनके विषय में जानने तथा उन्हे खोलने एवं बदं करने में किया जाता है.

माउस के इस्तमाल द्वारा उपयोगकर्ता (User) कम्प्युटर को कोई कार्य करने के लिए निर्देश देता है. इसके द्वारा एक User कम्प्युटर स्क्रीन पर कहीं भी पहुँच सकता है.

Mouse एक Keyboard के उपयोग को कम करता है, इसके आविष्कार और निरंतर Innovation को computer ergonomics में सबसे महत्वपूर्ण सफलताओं में से एक माना जाता है।

Mouse का इतिहास:

माऊस का आविष्कार 1963 में Stanfor के रहने वाले Douglas C. Engelbart द्वारा किया गया था और बाद में 1981 में Xerox Corporation द्वारा इसका बीड़ा उठाया गया।Computer User आमतौर पर लगभग 1984 तक Mouse आविष्कार के बारे में उलझन में थे, जब Original Apple Macintosh (Macintosh 128K) Release किया गया था।

माउस बनाते समय, Douglas, California के मेनलो पार्क में Stanford Research Institute में काम कर रहे थे, जो स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय द्वारा प्रायोजित एक think tank था। mouse को मूल रूप से “एक display system के लिए XY Position Indicator” के रूप में refer किया गया था और 1973 में Xerox Alto computer system के साथ पहली बार उपयोग किया गया था ।

पहला, कम्प्युटर माऊस लकड़ी का बना था, आज के mouse की तुलना में बहुत बड़ा था, आकार में आयताकार, और ऊपरी दायां किनारा में एक छोटा button था।

प्रारंभिक माऊस device एक Cable या Cord के माध्यम से Computer से Connect थे और Device के नीचे एक Movement Sensor के रूप में रोलर बॉल इंटीग्रेटेड  थी। Modern mouse devices, Optical Technology का उपयोग करते हैं, जहां Cursor की Movement एक visible or invisible light beam द्वारा Control होती है। कई Model विभिन्न Wireless Technology के माध्यम से Wireless Connectivity की सुविधा देते हैं, जिसमें Radio Frequency (RF) और Bluetooth शामिल हैं।

माउस के प्रकार – Types of Mouse

विभिन्न प्रकार के Mouse उपलब्ध हैं, प्रत्येक Mouse थोड़ा अलग Technology का उपयोग करते हुए या तो Computer से Connect होते हैं या Work करते हैं।

Corded Mouse:

एक कॉर्डेड माउस एक Cable के माध्यम से सीधे कम्प्युटर से कनैक्ट होता है। इस Mouse के अन्दर Battery की आवश्यकता नहीं होती है, इस Mouse में Cable के द्वारा ही Power Supply किया जाता है.

कॉर्डेड माउस की सटीकता बहुत अधिक है होती है, जिसके कारण इसे External Power की जरुरत नहीं होती है। क्रोडेड माऊस में low battery states की वजह से performance loss या signal interference की issue नहीं आती है।

Wireless Mouse:

एक क्रोड्लेस या तार रहित माउस, जैसा कि नाम से पता चलता है, इसमें कोई cable नहीं होते है और computer के साथ connectivity करने के लिए IrDA (infrared) या radio (Bluetooth or Wi-Fi) जैसी wireless   का उपयोग करता है । आमतौर पर, एक USB receiver, कम्प्युटर में प्लग  किया जाता है और कोरेलेस्स mouसे Signal प्राप्त करता है।

wireless mouse को काम करने के लिए battery की आवश्यकता होती है, जो AA battery, AAA battery या rechargable NiMH या Li-ion battery हो सकती है। एक wireless mouse जो rechargable होता है उसे mouse में battery चार्ज करने के लिए base station की आवश्यकता होती है।

*पहले wireless mouse को Logitech नाम दिया गया था, जिसका आविष्कार 1984 में किया गया था।
cable न होने की वजह से आप free महसूस करते हैं, लेकिन यहां, signal interference का खतरा बना रहता है। इसके अलावा, तथ्य यह है कि पहले आपको स्पष्ट रूप से battery खरीदनी होगी, और इसके corded counterpart की तुलना में माउस का अतिरिक्त वजन भी होगा (जो कि बुरी बात हो सकती है )।

एक BASIC PC MOUSE का Design

यदि आप PC इस्तमाल करते हैं तब आप जरुर mouse का इस्तमाल तो किया ही होगा. ये Mouse को आप अपने कीबोर्ड  के दाहिने या बहिने दिशा में पाएंगे.

  • Left (main) button: ये left button, आपके दाहिने हाथ के index finger के निचे आता है जो की सबसे main button है. इसी button का इस्तमाल सबसे ज्यादा किया जाता है.
  • Wheel button: इसे center या wheel भी कहा जाता है, इस button को आप left और right buttons को press करने के जैसे इस्तमाल कर सकते हैं. इसे मुख्य रूप से screen को ऊपर निचे या roll करने के लिए किया जाता है.
  • Right button: ये right button का इस्तमाल हम special operations के लिए करते हैं, इसके अलावा right-click करने से ये shortcut या context menu को pop up करता है.
  • Mouse body: Mouse एक साबुन के size का होता है. आप अपने हथेली का भार इसी mouse body के ऊपर देते हैं और अपने उँगलियों का इस्तमाल से mouse buttons का इस्तमाल करते हैं.
  • Special buttons: इसके अलावा भी Mouse में कई दुसरे special buttons होते हैं, जिन्हें की Internet navigation और दुसरे specific functions के लिए इस्तमाल किया जाता है.

माउस के उपयोग क्या हैं?

कंप्यूटर माउस समारोह में से प्रत्येक की एक सूची है जो एक User को अपने Computer का उपयोग करने में मदद करता है
1. Move the mouse cursor – Primary Function, Screen पर Mouse Pointer को Move करना है ।

2. Open or execute a program– एक बार जब आप Pointer को किसी Icon, Folder, या अन्य Object पर Click करके या उस Objects पर Double Click करके Documents को खोलते हैं या Program को Edit करते हैं ।

3. Select – एक Mouse भी आप के लिए Select Text या File और एक ही बार में एकाधिक फ़ाइलों का Select करने का अनुमति देता है।

4. Drag-and-drop– एक बार जब कुछ चुना जाता है, तो इसे Drag and Drop का उपयोग करके भी Move किया जा सकता है ।

5. Hover – Hover Information के साथ Object पर Mouse Cursor ले जाने से Screen पर प्रत्येक Objects के Function को खोजने में मदद मिल सकती है।

6. Scroll – जब एक Long Documents के साथ काम करते हैं, या एक Long Webpage को देखते हैं , तो आपको ऊपर या नीचे Scroll करने की आवश्यकता हो सकती है । Scroll करने के लिए, Mouse Wheel का उपयोग करें, या Scroll Bar को क्लिक करें और खींचें ।

7. Other – कई Desktop Mouse में भी Button होते हैं जिन्हें किसी भी कार्य को करने के लिए Program किया जा सकता है।


 

SHARE